दूध के साथ नमक खाने से हो सकती है सफ़ेद दाग की समस्या

दूध के साथ नमक खाने से हो सकती है सफ़ेद दाग की समस्या

दूध का सेवन हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। दूध में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, मैग्नीशियम और विटामिन मौजूद होते है जो हमारी हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करते है। पर क्या आपको पता है की अगर दूध का सेवन सही तरीके से न किया जाये तो यह हमारे शरीर को फायदे की जगह नुकसान भी पहुंचा सकता है 

दूध के साथ नमक:

# खट्टे पदार्थ पेट में जाकर दूध के साथ मिल कर दूध को फाड़ देते हैं जिससे हमारी सेहत को बहुत नुकसान होता है। दूध के साथ खट्टी चीजों को खाने से पेट में जहरीले पदार्थ पैदा हो जाते हैं और पेट की कई तरह की समस्याएं हो जाती हैं।

# दूध के साथ कभी भी चिकन को नहीं खाना चाहिए। क्योकि दोनों ही पौष्टिकता से भरपूर आहार होते हैं इनको साथ में खाने से शरीर में पोषक तत्वों की अधिकता हो जाती है जिसे पचाना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

# दूध के साथ नमक खाना बहुत खतरनाक साबित हो सकता है। खाने समय तो यह कोई नुकसान नहीं पहुंचाता पर ऐसा करने से कुछ सालों के बाद शरीर पर सफेद दाग हो जाते हैं।


बिना कपड़ों के सोने से आपको मिलते हैं कई तरह के हेल्थ बेनिफिट्स

बिना कपड़ों के सोने से आपको मिलते हैं कई तरह के हेल्थ बेनिफिट्स

नेक्ड स्लीपिंग या बिना कपड़ों के सोने से आपको कई तरह के हेल्थ बेनिफिट्स मिल सकते हैं। इसके पीछे कोई साइंटिफिक डेटा नहीं है लेकिन डिफरेंट स्टडीज बताती हैं कि नेक्ड स्लीपिंग कई मायनों में मददगार साबित हो सकती है। मेल और फीमेल दोनों के लिए यह फायदेमंद है।

बिना कपड़ों के सोने से आपकी बॉडी का टेम्परेचर जल्दी नीचे गिरता है, जिससे दिमाग को सिग्नल मिलता है कि अब सोने का समय हो गया है। इससे आपको अच्छी और जल्दी नींद आती है। बॉडी टेम्परेचर के साथ ही अगर आप अपने रूम का टेम्परेचर भी सही रखेंगे तो आपकी स्लीपिंग और इम्प्रूव होगी।

न्यूड सोने से आपकी अपने पार्टनर के साथ भी इंटीमेसी बढ़ती है। दरअसल स्किन के कांटैक्ट से ऑक्सिटोसिन नाम का केमिकल रिलीज होता है। ऐसे में जब पार्टनर्स के साथ स्किन कांटैक्ट बढ़ता है तो ज्यादा मात्रा में ऑक्सिटोसिन प्रोड्यूस होता है जो आपको प्लीजिंग फीलिंग देता है। 

मेल इनफर्टिलिटी की समस्या भी नेक्ड सोने से कुछ हद तक खत्म हो सकती है। दरअसल कई बार पुरुष टाइट अंडरवियर पहनकर सोते हैं। ऐसे में स्क्रोटम का टेम्परेचर बढ़ जाता है, जिससे स्पर्म वाइटिलिटी और स्पर्म काउंट दोनों पर असर पड़ता है। यही बात फीमेल्स पर भी लागू होती है। अगर आपको नेक्ड सोना कंफर्टेबल नहीं लगता तो आप लाइट फिटिंग के कपड़े पहनकर भी सो सकते हैं।

अच्छी नींद से इम्यूनिटी बढ़ती है और इंफेक्शन के चांसेंस काफी कम हो जाते हैं। इसके उलट जब आप ठीक से सो नहीं पाते तो आपके शरीर की इम्यूनिटी दिन पर दिन घटती जाती है और आप चाहे कितना भी ध्यान रखें, बीमिरियों से बच नहीं पाते।