स्वास्थ्य

खर्राटे की समस्या से राहत पाने के लिए अपनाएं ये तरीके

एक हालिया शोध में पाया गया है कि जो लोग जोर-जोर से खर्राटे लेते हैं, उनमें हार्ट अटैक या स्ट्रोक का खतरा अधिक होता है शोध में पाया गया कि खर्राटे लेने वालों में हार्ट अटैक का खतरा 30% और स्ट्रोक का खतरा 20% अधिक होता है अध्ययनकर्ताओं का मानना ​​है कि खर्राटे लेने से सोते समय सांस लेने में रुकावट आती है, जिससे खून में ऑक्सीजन की कमी हो सकती है यह दिल और दिमाग सहित शरीर के अन्य अंगों को हानि पहुंचा सकता है

अध्ययन में 7,560 मर्दों और स्त्रियों को शामिल किया गया था शोध में पाया गया कि जो लोग प्रति रात 5 या अधिक बार खर्राटे लेते थे, उनमें हार्ट अटैक या स्ट्रोक का खतरा अधिक था शोध के प्रमुख लेखक डाक्टर जेम्स वुड ने बोला कि यह शोध बताता है कि खर्राटे लेना एक गंभीर स्वास्थ्य खतरा हो सकता है उन्होंने बोला कि यदि आप खर्राटे लेते हैं, तो अपने चिकित्सक से बात करना जरूरी है ताकि आप हार्ट अटैक या स्ट्रोक के जोखिम को कम करने के लिए कदम उठा सकें

खर्राटे की परेशानी से राहत पाने के तरीके

– मोटापा खर्राटे की परेशानी का एक प्रमुख कारण है इसलिए, अपनी वजन को नियंत्रित रखने से खर्राटे की परेशानी को कम करने में सहायता मिल सकती है
– अपने गले के आसपास की मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए व्यायाम करें गले की मांसपेशियों को मजबूत करने से गले के मार्ग को खुला रखने में सहायता मिल सकती है
– धूम्रपान न करें धूम्रपान खर्राटे की परेशानी को बढ़ा सकता है
– पर्याप्त नींद लें थकान खर्राटे की परेशानी को बढ़ा सकती है इसलिए, हर रात 7-8 घंटे की नींद लेने का कोशिश करें

अदरक से दूर होंगे खर्राटे
अदरक में सूजनरोधी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो खर्राटों को कम करने में सहायता कर सकते हैं इसके साथ-साथ साबुत अनाज, लीन प्रोटीन, योगार्ट और अलसी के बीज का सेवन करने से भी खर्राटे को कम दिया जा सकता है हालांकि, यह ध्यान में रखना जरूरी है कि ये फूड हर किसी के लिए काम नहीं कर सकते हैं यदि आप खर्राटों के बारे में चिंतित हैं, तो अपने चिकित्सक से बात करना सबसे अच्छा है

Related Articles

Back to top button