स्वास्थ्य

रोजाना सुबह खाली पेट नीम की पत्तियां चबाने से सेहत को मिलेंगे गजब के फायदे

Health Benefits Of Eating Neem Leaves: स्वाद में भले ही नीम की पत्तियां कड़वी होती हैं लेकिन अपने गुणों की वजह से स्वास्थ्य के लिए वरदान मानी जाती हैं. आयुर्वेद के अनुसार, प्रतिदिन सुबह खाली पेट नीम की पत्तियां चबाने से आपको आदमी को स्वास्थ्य से जुड़े कई फायदा मिल सकते हैं. आइए जानते हैं स्वास्थ्य से जुड़े ऐसे ही कुछ फायदों के बारे में.

मोटापा-
स्टडी के अनुसार, नीम की पत्तियां वजन घटाने में सहायता कर सकती हैं. खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ) के एक पुराने शोध से यह भी पता चलता है कि नीम की पत्ती का अर्क मनुष्यों में मोटापा कम कर सकता है.

ब्लड शुगर रखें कंट्रोल-
आज बिगड़ी हुई लाइफस्टाइल, बढ़ता तनाव और खानपान की खराब आदतों की वजह से हिंदुस्तान में लगातार डायबिटीज मरीजों की संख्या बढ़ रही है. जिसे कंट्रोल करने के लिए लोगों को दवा का सहारा लेना पड़ता है. आप चाहे तो शुगर को कंट्रोल करने के लिए दवा के साथ नीम का ये नुस्खा भी आजमा सकते हैं. जिसमें नीम के पत्तों को सुबह खाली पेट चबाना होता है. एक्सपर्ट बताते हैं कि नीम के पत्तों में एजाडिरेक्टिन नाम का तत्व होता है,जो ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में कारगर होता है. खाली पेट नीम चबाने से ब्लड शुगर तो कंट्रोल रहेगा ही साथ ही आपका खून भी साफ होगा.

इम्यूनिटी रखें बूस्ट-
सुबह उठकर खाली पेट नीम की पत्तियां चबाने से आदमी की इम्यूनिटी बूस्ट होती है. नीम के पत्तों में एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेट्री, एंटी-फंगल आदि गुण पाए जाते हैं, जिससे शरीर को कई संक्रमण से दूर रखा जा सकता है. इस तरीका को करने के लिए नियमित रूप से नीम की पत्तियां चबाकर उसका पानी पीते हैं या फिर पानी में उबालकर पत्तियों का सेवन करते हैं तो इम्यून सिस्टम बूस्ट होता है.

कब्ज-
कब्ज से परेशान लोगों के लिए भी नीम के पत्ते बहुत लाभ वाला होते हैं. इनका सेवन करने से पेट से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है.

ओरल हेल्थ-
नीम में उपस्थित तत्व आपके दांतों और मसूड़ों को प्लाक की परेशानी से बचाए रखने में सहायता करते हैं. नीम की पत्ती में उपस्थित जीवाणुरोधी गुण कैवटी से भी छुटकारा दिला सकते हैं.

सलाह-
यह लेख सिर्फ़ सामान्य जानकारी प्रदान करता है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें.

Related Articles

Back to top button