इस क्रम में दिखाई देते हैं Covid-19 के सभी लक्षण

इस क्रम में दिखाई देते हैं Covid-19 के सभी लक्षण

कोरोना वायरस के मामले दुनिया भर में तेज़ी से बढ़ रहे हैं और खासकर हमारे जैसे देश में, यह और भी ख़तरनाक स्तर पर पहुंच रहा है। वैक्सीन विकसित करने का काम भले ही तेज़ी से चल रहा है, लेकिन एक कारगर वैक्सीन को आने में कम से कम 2-3 साल लग सकते हैं। इसलिए इस वक्त लक्षणों की पहचान और उसका सही इलाज कोरोना को रोकने का एकमात्र तरीका है।

कोरोना वायरस के बारे में एक बात साफ है कि इसके लक्षण कई चीज़ों पर निरभर करते हैं- जैसे आपकी उम्र, स्वास्थ्य, पहले से मौजूद बीमारी और लिंग। हालांकि, ज़्यादातर मामलों में, COVID-19 एक निश्चित तरीके से शुरू होता है। यहां तक कि शोधकर्ताओं ने ऐसे लक्षणों की भी खोज की है, जो सिर्फ कोरोना वायरस में ही देखे जाते हैं, जैसे सूंघने और स्वाद की शक्ति का ख़त्म होना और पैर की उंगलियों में सूजन और दर्द।

एक ऐसा लक्षण जिससे कोरोना को पहचानना आसान हो
दक्षिणी कैलीफोर्निया विश्वविद्यालय में हुए नए शोध के मुताबिक, कोविड-19 के लक्षण एक खास क्रम में देखे जाते हैं। जिससे ये साफ हो सकता है कि बीमारी आम फ्लू है या फिर कोरोना वायरस।
 
वैज्ञानिकों का मानना है कि लक्षणों की सही पहचान से लोगों को स्थिति बिगड़ने से पहले आइसोलेशन और लक्षणों का इलाज करने में मदद मिलेगी।
 
फ्लू से कैसे अलग है कोरोना वायरस
कोविड-19 कई मायनों में बिलकुल फ्लू जैसा है, लेकिन लक्षण जिस क्रम में दिखना शुरू होते हैं, वे अलग हो सकते हैं। चीन में एक शोध में देखा गया कि लक्षण इस क्रम में देखे जाते हैं। :
 
-बुख़ार
-खांसी, मांसपेशियों में दर्द
-मतली, उलटी
-दस्त
-सांस लेने में दिक्कत
 
इस शोध से कैसे मदद मिलेगी?
इस शोध से डॉक्टरों के लिए कोरोना के मरीज़ों का पता लगाना आसान होगा। खासकर ऐसे मौसम में जब कोरोना के साथ फ्लू और दूसरे वायरल संक्रमण आम हो जाते हैं। 
 
क्योंकि कोविड-19 वायरस इंफ्लूएंज़ा से कहीं ज़्यादा संक्रामक है, इसलिए बुखार जैसे लक्षण दिखते ही जागरुक हो जाना चाहिए, जिससे की बीमारी को फैलने से रोका जा सके।
 
कब कराना चाहिए टेस्ट?
अगर आपको ऐसा लगता है कि आपका बुखार कोरोना वायरस संक्रमण का ही लक्षण है, तो सबसे पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें और ज़रूरी सावधानियां बरतें। याद रखें कि हमारे शरीर का नॉर्मल तापमान 97-99 डिग्री फेरेनहीट होता है और समय पर भी निर्भर करता है। 
 
अगर आपक लक्षण तीन दिनों तक जाते नहीं हैं और शरीर का तापमान लगातार 99 डिग्री से ऊपर बना हुआ है, तो आपको कोविड-19 टेस्ट करवाना चाहिए। साथ ही खुद को एकांत में रखें और ज़रूरी सावधानियां बरतें। साथ ही दूसरे लक्षणों पर भी नज़र रखें।
 
सिर्फ यही नहीं हैं कोरोना के लक्षण
बुखार और खांसी ही सिर्फ कोरोना वायरस के लक्षण नहीं हैं। हमें अलक्षणी प्रसारण के जोखिम का भी ख्याल रखना होगा, जिसका मतलब है कोरोना के वे मरीज़ जिनमें एक भी लक्षण दिखाई नहीं देता है। इसलिए सावधानियां बरतनी बेहद ज़रूरी हैं। इसके अलावा, कई ऐसे भी मरीज़ अस्पताल पहुंचे हैं, जिनमें सिर्फ सीने में दर्द, सूंघने की शक्ति का ख़त्म होना या फिर गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल संक्रमण के लक्षण देखे गए। इसलिए इस बीमारी के बारे में जागरुक होना और सुरक्षा के उपायों का अभ्यास करना सभी के लिए बेहद महत्वपूर्ण है।


बड़े काम की चीज है इसका सिरका, हार्ट अटैक का खतरा कम करने के लिए है मददगार

बड़े काम की चीज है इसका सिरका, हार्ट अटैक का खतरा कम करने के लिए है मददगार

एपल साइडर विनेगर वजन घटाने के साथ कोलेस्ट्रॉल लेवल घटाने में भी कारगर है, जिसका पता ईरान में हुई एक स्टड़ी में चला है, 12 हफ्ते तक चली इस रिसर्च में सामने आया कि यह ट्राईग्लिसराइड और कोलेस्ट्रॉल लेवल घटाकर हार्ट अटैक के खतरे की संभावना को कम करता है। एक्सपर्ट कहते हैं, इसके कई फायदे हैं। लेकिन एपल साइडर विनेगर का इस्तेमाल सीमित मात्रा में करें वरना नुकसान भी हो सकता है। एक दिन में 30 एमएल से ज्यादा इसका इस्तेमाल न करें।

क्या होता है एपल साइडर विनेगर?

सेब को जूस को फर्मेंट करके विनेगर तैयार किया जाता है।

इसमें एसिटिक एसिड और सिट्रिक एसिड के अलावा विटामिन-बी, सी पाया जाता है।

बालों का संक्रमण दूर करता है यह विनेगर

सिर में फंगल या बैक्टीरियल इंफेक्शन होने पर एक चौथाई कप पानी में दो छोटे चम्मच एपल विनेगर को मिलाएं।

शैंपू के बाद इसे स्कैल्प पर लगाएं। सिर को तौलिया से कवर करें और 20 मिनट बाद पानी से धो लें। बालों में चमक आने के साथ पीएच लेवल भी मेंटेन रहता है।


कील-मुंहासे की समस्या करता है दूर

चेहरे पर धब्बे, पिंपल्स की समस्या होने पर एक कप पानी में एक चम्मच एपल विनेगर मिलाएं। इसे रूई की मदद से लगाएं फिर 10 मिनट बाद धो लें। इससे यह समस्या खत्म हो जाएगी।

भूख कंट्रोल करने में मददगार

बढ़ते वजन को कंट्रोल करने के लिए इस सिरके को अपने डेली रूटीन में शामिल करें।

एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच एपल साइडर विनेगर को खाना खाने के 45 मिनट पहले पिएं।


इससे वजन कम होने के साथ ही मेटाबॉलिज्म तेज होता है। साथ ही यह ब्लड शुगर लेवल और भूख दोनों को कंट्रोल करता है।

कई रिसर्चेस में भी सामने आया है कि यह शरीर में कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड का स्तर कम करता है।

इन बातों का भी रखें ध्यान

कभी भी सेब के सिरके का इस्तेमाल ज्यादा मात्रा में न करें। ऐसा करने पर उल्टी हो सकती है।

शरीर में ब्लड शुगर का लेवल अधिक गिर सकता है।

वहीं, एसिडिक होने के कारण यह पेट, स्किन और दांतों की ऊपरी लेयर को नुकसान हो सकता है।


भारत व इंग्लैंड के बीच खेले जाने वाले चौथे टेस्ट में जानिए कैसा रहेगा मौसम व पिच का हाल       कब और कहां देखें भारत-इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच       भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड के खेमे में खलबली       विराट कोहली और बेन स्टोक्स चौथे टेस्ट मैच के पहले दिन मैदान पर भिड़े       दो दिन बाद ही रोकना पड़ा टूर्नामेंट का आयोजन, स्टेन ने पाकिस्तान लीग के बताया IPL से बेहतर       इन नेचुरल ऑयल्स से बहुत जल्द दूर कर सकते हैं ये...       दाढ़ी की रूसी दूर करने में बहुत ही असरदार है ये घरेलू उपाय       क्लीयर स्किन के लिए आज़माएं ये 5 घरेलू नुस्खे       बालों की हर समस्या का इलाज करता है गुड़हल का तेल       नैचुरली काली घनी पलकें चाहती हैं तो इस खास टिप्स को अजमाएं       झुमरी तिलैया की श्रुति ने बढ़ाया झारखंड का मान, ऑल इंडिया ब्यूटी कॉन्टेस्ट में जीता खिताब, श्रुति को मिला मिसेज इंटेलेक्चुअल का अवार्ड        लिवर को भी प्रभावित करता है Covid-19, इस तरह से करें बचाव       बड़े काम की चीज है इसका सिरका, हार्ट अटैक का खतरा कम करने के लिए है मददगार       ज्यादा दिनों तक खांसी के साथ अगर हैं ये सारे लक्षण तो...       क्या आपको ऑफिस और स्कूल खुलने से डर लग रहा है? एक्सपर्ट्स से जानें       गैजेट्स के लगातार इस्तेमाल से बढ़ रही है डिजिटल आई स्ट्रेन की समस्या       यात्रियों के लिए चलाई जाए पैसेंजर-एक्सप्रेस ट्रेनें:शालिनी       पुलिस की घिनौनी करतूत, लड़कियों के उतरवाए कपड़े, फिर किया ये...       आखिर कौन-कौन से लोग नहीं लगवा सकते वैक्सीन, वैक्सीनेशन से पहले जान लें ये बात       अरबपति बना हिमाचल का बेटा, अमेरिका में बनाई खुद की कंपनी