10 हजार में खरीदी ऑक्सीजन, फिर भी टूट गई मरीज के सांसों की डोर

10 हजार में खरीदी ऑक्सीजन, फिर भी टूट गई मरीज के सांसों की डोर

ग्रेटर नोएडा। महामारी के दौर में व्यवस्थाओं की सांस फूल रही है। वहीं, आपदा में अवसर तलाशने वाले लोग कालाबाजारी कर पीड़ितों को लूटने में जुटे हैं। नोएडा के गेझा गांव की महिला को सोमवार शाम सांस लेने में दिक्कत हुई तो परिजन उसे गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद के अस्पतालों में लेकर पहुंचे, लेकिन ऑक्सीजन और बेड न होने का हवाला देकर टरका दिया गया। इस पर परिजनों ने फेसबुक पर लाइव आकर मदद मांगी, लेकिन कुछ नहीं हुआ। बड़ी मुश्किल से गाजियाबाद-गुलावठी रोड स्थित अस्पताल में बेड मिला तो परिजन ऑक्सीजन की तलाश में जुट गए। गाजियाबाद एनएच-24 ऑटो खड़ा कर कालाबाजारी करने वालों ने बमुश्किल 150 रुपये में भरने वाले सिलिंडर में 10000 हजार रुपये में ऑक्सीजन दी। इसके बाद परिजन सुबह 6 बजे ऑक्सीजन लेकर अस्पताल पहुंचे, तब तक महिला के सांसों की डोर टूट चुकी थी।

गेझा गांव निवासी आदेश त्यागी ने बताया कि वह इंडिया स्पोर्ट्स संघ के जिलाध्यक्ष हैं। उनके भाई राजेश त्यागी फोटो स्टूडियो चलाते हैं। राजेश की पत्नी सीमा को दो दिन पहले बुखार और खांसी हुई थी। आदेश का कहना है कि बुखार और खांसी कम हो गई थी। सोमवार को आदेश एक भाई की सगाई से लौटे तो पता चला कि उनकी भाभी सीमा त्यागी को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। चिकित्सक से अस्पताल में भर्ती कराने की सलाह दी है। इसके बाद वह उन्हें कार में लेकर यथार्थ अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां ऑक्सीजन और बेड न होने का हवाला दिया गया। परिजन ने कहा कि बेड नहीं है तो वह मरीज को गाड़ी में ही रखेंगे, किसी तरह से ऑक्सीजन की व्यवस्था करा दें, लेकिन कोई मदद नहीं मिली। इसके बाद वह जेपी अस्पताल, गाजियाबाद के अस्पताल लेकर पहुंचे। दिल्ली के जीटीबी में भी संपर्क किया, तो पहले कोरोना रिपोर्ट मांगी फिर बेड व ऑक्सीजन न होने का हवाला देकर टरका दिया गया। मंगलवार रात करीब 10 बजे भी पीड़ित परिजनों ने फेसबुक पर लाइव आकर दर्द बयां किया।

ऑटो में रखकर हो रही थी कालाबाजारी

आदेश ने बताया कि गाजियाबाद-गुलावठी रोड स्थित एक अस्पताल ने उनकी भाभी को भर्ती तो कर लिया, लेकिन ऑक्सीजन की व्यवस्था करने के लिए उन्हें भेज दिया। एनएच-24 पर उन्हें एक ऑटो दिखा, जिसमें ऑक्सीजन के सिलिंडर रखकर कालाबाजारी हो रही थी। मशक्कत और सौदेबाजी के बाद उन्हें 150 रुपये की ऑक्सीजन 10 हजार रुपये में दी गई।

इंदिरापुरम गुरुद्वारे ने की मदद

आदेश ने बताया कि उन्हें पता चला कि इंदिरापुरम के गुरुद्वारे में ऑक्सीजन का बंदोबस्त किया गया है। वहां पहुंचे तो बड़ी संख्या में गंभीर मरीजों को राहत देने के लिए पाइप से ऑक्सीजन की व्यवस्था की जा रही थी। उनकी भाभी को यहां मदद मिली और ऑक्सीजन लेवल बढ़ने के बाद ही वह अन्य अस्पताल की तलाश में निकले थे।


प्राइवेट एंबुलेंस वालों ने मचाई लूट, मात्र 12 किलोमीटर की दूरी के लिए 40 हजार वसूले

प्राइवेट एंबुलेंस वालों ने मचाई लूट, मात्र 12 किलोमीटर की दूरी के लिए 40 हजार वसूले

नोएडा। कोरोना काल में एंबुलेंस चालकों की मनमानी जारी है और जरूरतमंदों से कई गुना अधिक पैसे वसूले जा रहे हैं। इसी तरह की शिकायत ट्विटर पर की गई है। सेक्टर-50 नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के एक अस्पताल में मरीज को भर्ती कराने के लिए एंबुलेंस चालक ने 40 हजार रुपये वसूल लिए। वहीं, मामले में नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने ट्विटर पर बताया कि इसकी शिकायत ट्रैफिक हेल्पलाइन पर करें।

मंगलवार को कुछ लोगों ने ट्वीट किया कि नोएडा में एंबुलेंस चालक किस तरह लोगों से पैसे वसूल रहे हैं। सोमवार को एक मरीज को अस्पताल में भर्ती होना था। इसके लिए उन्होंने निजी एंबुलेंस एजेंसी से बुकिंग कराई थी और पुष्पेंद्र सिंह चालक सेक्टर-50 स्थित मरीज के घर पहुंचा। चालक मरीज को लेकर प्रकाश अस्पताल पहुंचा और फिर वहां से ग्रेनो वेस्ट स्थित यथार्थ अस्पताल ले गया। सेक्टर-50 से यथार्थ अस्पताल के बीच 12 किलोमीटर की दूरी के लिए एंबुलेंस चालक ने 40 हजार रुपये वसूल लिए। शिकायतकर्ता ने ट्विटर पर बताया कि एंबुलेंस भी मानकों के अनुसार पूरी नहीं थी और अंदर रखा स्ट्रेचर टूटा था व मात्र 2 घंटे की ऑक्सीजन थी। मरीज को पहुंचाने के बाद 40 हजार रुपये लेने के बाद दो हजार रुपये अलग से ड्राइवर ने लिए। डीसीपी ट्रैफिक गणेश प्रसाद साह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है और एंबुलेंस चालक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


चीन ने जनसंख्या वृद्धि रोकने में हासिल की कामयाबी, लेकिन...       US सिक्योरिटी ने किए नष्ट, गोबर के उपले लेकर अमेरिका पहुंचा एक भारतीय शख्स       Italy की इस महिला को एक ही बार में लगे Pfizer Covid-19 Vaccine के 6 डोज       कोविड-19 वायरस के भारतीय स्ट्रेन को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने माना खतरनाक, कहा...       'इस्लाम को रियायत मिलने से फ्रांस को खतरा'       कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर भारतीय प्रस्ताव के समर्थन में विश्व स्वास्थ्य संगठन , चीफ साइंटिस्ट ने कहा...       साइबर हमले के बाद अमरीकी फ्यूल पाइपलाइन जल्द हो सकती है शुरू       अमेरिका में 12 से 15 वर्ष तक के बच्चों को लगेगी वैक्सीन       विदेश मंत्रालय ने कहा कि ईरान के ऑफिसरों ने सऊदी के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर सीधी वार्ता की पुष्टि की       गाजा पर रॉकेट से हमला, 20 लोग मारे गए       भारत में Covid-19 की दूसरी लहर में हो रही मौतों से विश्व स्वास्थ्य संगठन चिंतित, कहा...       कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं       बीते 24 घंटे में 3.29 लाख नए केस आए, 3876 मरीजों ने गंवाई जान       योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ डब्‍ल्‍यूएचओ       देश में अब तक 17.27 करोड़ से अधिक लोगों को लगी वैक्सीन       अफगानिस्तान में भारतीय राजनयिक विनेश कालरा का मृत्यु       जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी को लिखी पांच पन्नों की चिट्ठी, कहा...       कोविड-19 मुद्दे में केन्द्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय को दी अति उत्साह में निर्णय ना लेने की सलाह, कहा...       Ghazipur में गंगा नदी में दर्जनों लाशें दिखने से मचा हड़कंप       राहुल का प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी पर जोरदार हमला, कहा...