ये रिश्ता क्या कहलाता है एक्टर मोहसिन खान के लिए लॉकडाउन बना खास

ये रिश्ता क्या कहलाता है एक्टर मोहसिन खान के लिए लॉकडाउन बना खास

लॉकडाउन के चलते ये रिश्ता क्या कहलाता है एक्टर मोहसिन खान अपने घर में ही हैं. कई वर्षों बाद ये पहली बार है जब उन्हें रमजान अपने परिवार के साथ रमजान मनाने का मौका मिला है. 

हाल ही में एक मिडिया रिपोर्टर से वार्ता के दौरान उन्होंने अपने रमजान रूटीन पर खास चर्चा की है. वहीं अभिनेता, हर वर्ष की तरह अपना रोजा रख रहे हैं. उनका बोलना है कि शूटिंग न होने पर इफ्तारी समय पर होती है. रमजान को "शुद्धिकरण की अवधि" के रूप में बताते हुए उन्होंने कहा, "जब से कोई शूट नहीं हो रहा है तो इफ्तारी परिवार के साथ समय पर होती है. यह पहली बार है जब रमजान व ईद लॉकडाउन में होंगे. ”"ये रिश्ता क्या कहलाता है" स्टार कबाब, पकोड़े व बिरयानी के शौकीन हैं.

इसके साथ ही मोहसिन ने बताया कि उनकी अम्मी उन्हें घर पर कार्य नहीं करने दे रही है, परन्तु वह जो भी कर सकते है, उसमें सहयोग देने की प्रयास करते है.कोरोनोवायरस के बारे में बात करते हुए, मोहसिन कहते हैं, "मैं प्रार्थना करता हूं व चाहता हूं कि कोरोना दूर हो जाए व हम पहले की तरह सामान्य ज़िंदगी जी सकें. मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि वे घर पर रहें व सरकार द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का पालन करें. इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग वास्तविकता है व हमें इसके साथ रहना होगा, सोशल डिस्टेंसिंग को सामान्य लाइफस्टाइल की तरह लेना होगा. वहीं "उन्होंने आगे बोला कि इस संकट के दौरान खुद को व्यस्त रखना चाहिए व सकारात्मक रहना चाहिए. मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखना बहुत आवश्यक है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें की सकारात्मक रहने की आवश्यकता है. एक समय में एक दिन ज़िंदगी जीना चाहिए. मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि वे घर पर शांत व सुरक्षित रहें.इस महामारी के दौरान एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को जो झटका लगा है, उसके बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “महामारी हमारे हाथ में नहीं है. हर कोई चाहता है कि कोरोना चले जाए. कुछ भी स्थायी नहीं है. मुझे उम्मीद हैं जल्द से जल्द इसका निवारण निकलेगा, परन्तु तब तक हमें अनुग्रह के साथ संयम रखने की जरुरत है. वहीं हमें इस विषम परिस्थितियों में अपने परिवार के साथ खड़े होने की आवश्यकता है. जैसे की मशहूर एक्टर राजकपूर कहते थे, शो मस्ट गो ऑन .