बच्चों को स्पर्श का फर्क समझाना बहुत महत्वपूर्ण : अशनूर कौर

बच्चों को स्पर्श का फर्क समझाना बहुत महत्वपूर्ण : अशनूर कौर

टीवी का जाना माना धारावाहिक पटियाला बेब्स में इन दिनों कहानी के एक मोड़ के जरिए बच्चों को गुड टच व बैड टच के बारे में समझाया जा रहा रहा है.इसके साथ ही शो में लीड भूमिका कर रही अभिनेत्री अशनूर कौर कहती हैं, 'एक लड़की होने के नाते हमें पता चल जाता है कि कोई हमें छू रहा है तो उसकी नीयत कैसी है.वहीं इसके बारे में बच्चों को समझाना बहुत कठिन है क्योंकि उन्हें हम ज्यादा खुलकर नहीं बता सकते है.

वहीं हम उनसे सिर्फ इतना कह सकते हैं कि यदि किसी के छूने से आप असहज होते हो तो उस इंसान को चिल्लाकर अपने से दूर कर दो व खुद भी उससे दूरी बना लो. वहीं बच्चों को स्पर्श का ये फर्क समझाना बहुत महत्वपूर्ण है.

इसके साथ ही अशनूर के माता-पिता आरंभ से ही इन सब चीजों को लेकर बहुत सतर्क रहे हैं. वह बताती हैं, 'मेरे माता पिता मुझसे खुलकर बातें किया करते थे. वे मेरे किरदारों को चुनने में मेरी मदद करते हैं. मैं भी अपनी तरफ से कुछ ऐसे किरदारों को तलाशती हूं, जो मेरे लिए नए व चुनौतीपूर्ण हों. परन्तु ऐसे होने चाहिए जिनमें मैं ढल सकूं.' इसके साथ ही धारावाहिक 'झांसी की रानी' से एक्टिंग की आरंभ करने वाली अशनूर कहती हैं, 'मेरी मां की एक दोस्त थीं, जिनकी जान पहचान एक कास्टिंग निर्देशक से थी.

वहीं निर्देशक को अपने शो झांसी की रानी के लिए एक बाल कलाकार की आवश्यकता थी. मेरी मां की दोस्त ने वहां मेरा नाम दर्ज करवा दिया व मुझे शो मिल गया. फिर तब से अब तक ऐसे ही भाग्य के भरोसे गाड़ी चल रही है.' वहीं तापसी पन्नू की फिल्म 'मनमर्जियां' में अश्नूर ने उनकी छोटी बहन का भूमिका निभाया है. इसके साथ ही अश्नूर ने तापसी की हर फिल्म तो नहीं देखी परन्तु वह उन्हें एक अभिनेत्री के तौर पर बहुत पसंद करती हैं. वह बताती हैं, 'मैंने उनकी फिल्म 'पिंक' देखी है, जो मुझे बहुत अच्छी लगी. इसके अतिरिक्त वे हर भूमिका में बहुत अच्छे से ढल जाती हैं, इसलिए मुझे तापसी पसंद हैं.