Karan Johar से बहस पर दिव्या अग्रवाल ने अब दिया जवाब, ‘किसी को इम्प्रेस करने से फिल्म तो मिल जाएगी लेकिन...’

Karan Johar से बहस पर दिव्या अग्रवाल ने अब दिया जवाब, ‘किसी को इम्प्रेस करने से फिल्म तो मिल जाएगी लेकिन...’

करण जौहर का शो ‘बिग बॉस ओटीटी’ खत्म होने के बाद चर्चा में है। ‘बिग बॉस ओटीटी’ का पहला सीज़न एक्ट्रेस दिव्या अग्रवाल ने जीता है। शो खत्म होने के बाद से दिव्या लगातार चर्चा में बनी हुई हैं और इंटरव्यूज़ दे रही हैं। अपने इंटरव्यूज़ में एक्ट्रेस शो की जर्नी और कंटेस्टेंट्स के बारे में खुलकर अपनी राय रख रही हैं, अब इसी बीच दिव्या ने शो में करण जौहर के साथ हुई बहस पर अपनी राय रखी है।

आपको याद होगा कि बिग बॉस ओटीटी के शुरुआती दिनों में दिव्या और करण जौहर के बीच तीखी बहस हुई थी जिसके बाद एक्ट्रेस को काफी ट्रोल भी किया गया था। अब एक्ट्रेस ने उस पूरे मामले पर रिएक्शन दिया है। सिद्धार्थ कनन ने साथ बातचीत में एंकर ने दिव्या से पूछा कि करण से बहस करने के बाद उन्हें नहीं लगता कि उनके फिल्मी करियर पर इसका असर पड़ेगा। इस पर दिव्या ने कहा, ‘एक आर्टिस्ट के तौर मैं बहुत कॉन्फीडेंट हूं, मैं कभी भूखी नहीं मरूंगी। एक्टिंग मेरा प्रोफेशन और मैं इसके लिए बहुत पैशनेट हूं। लेकिन इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है कि मैं अपना पैशन सिर्फ करण जौहर की फिल्म में ही दिखा सकती हूं’।


‘मैं वो कर रही हूं जो मैं करना चाहती हूं। कोई फर्क नहीं पड़ता कि वो करण जौहर की फिल्म हो, रीजनल फिल्म हो या कोई शॉर्ट फिल्म। अगर किसी को इम्प्रेस करने से मुझे फिल्म मिल जाती है तो ऑडियंस सब देख सकती है। अगर मैं एक्टिंग नहीं कर पाई तो लोग मेरी आलोचना करेंगे, फिर कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं कितनी फिल्मों में काम करती हूं’। आगे दिव्या ने कहा वो उस वक्त अपने हिसाब से सही थीं, वो गलत नहीं थीं। वो कभी अपनी बात रखने से ख़ुद को रोकेंगी नहीं। एक्ट्रेस ने कहा शुरुआत में करण और उनके बीच बहस हुई थी, लेकिन अंत तक आते-आते वो दिव्या को पसंद करने लगे थे।


Shubho Bijoya: शुभो बिजोया देखकर अपने आंसू नहीं रोक पाई- देबिना

Shubho Bijoya: शुभो बिजोया देखकर अपने आंसू नहीं रोक पाई- देबिना

Shubho Bijoya: साल 2008 की रामायण सीरीज के बाद राम-सीता के रूप में अपनी पहचान बना चुके गुरमीत और देबिना शॉर्ट फिल्म 'शुभो बिजोया' में नजर आए. उनके फैंस को 11 वर्ष बाद इन्हें साथ देखना रोमांचित कर रहा है. देबिता कहती हैं फिल्म कमाल की है. इमोशन ऐसे हैं कि देखने पर मुझे स्वयं रोना आ गया. फिल्म जब शूट हो रही थी तो मैं 2 दिन बीमार भी हो गई थीए इसका प्रभाव फिल्म के हिस्से में भी नजर आया.

गृहस्थी के लिए समय चुराना पड़ता है
एक प्रश्न के उत्तर में देबिना ने कहा, गृहस्थी में रहते हुए एक-दूसरे के लिए समय देना महत्वपूर्ण है, चाहे आप कितने भी बिजी रहो. गुरमीत तो मुझसे अधिक व्यस्त रहते हैं लेकिन फिर भी समय देते हैं. वैसे भी फैमिली में रहते हुए टाइम निकालना नहीं बल्कि चुराना पड़ता है.

रियलिटी स्वीकारें, तभी कर पाएंगे बेहतर:

रिजेक्शन के प्रश्न पर देबिना कहती हैंए कई बार ऐसा होता है कि हम सोचते हैं कि फलां भूमिका बेहतर कर सकते थे, लेकिन मौका नहीं मिला. जबकि आपके सामने ही उस भूमिका के लिए डिस्कशन होता रहता है. यह लाइफ का पॉर्ट और रियलिटी है. इसे स्वीकार करें तभी आप जीवन को एन्जॉय कर पाएंगे और बेहतर कर सकेंगे.

'राधेश्याम' का अंगे्रजी टीजर प्रभास के बर्थडे पर

प्रभास अपने जन्मदिन पर फैंस को सरप्राइज देने जा रहे हैं. अपने बर्थडे पर प्रभास पैन इंडिया फिल्म 'राधे श्याम' का अंगे्रजी टीजर लॉन्च करेंगे. फैंस के लिए सरप्राइज यह है कि नया टीजर कई भाषाओं में सब-टाइटल्स के साथ ही अंग्रेजी में भी रिलीज होगा. प्रभास फिल्म के इस वर्जन के लिए अंग्रेजी में स्वयं डायलॉग बोलेंगे. प्रभास अंग्रेजी वर्जन में डबिंग आर्टिस्ट की बजाय स्वयं डायलॉग्स बोलेंगे.