मनोरंजन

2500 रुपये थी इमरान हाशमी की पहली कमाई, बोले…

बॉलीवुड में ‘सीरियल किसर’ कहे जाने वाले इमरान हाशमी ने बीते वर्षों में कई भिन्न-भिन्न रोल निभाए हैं केवल हीरो ही नहीं बल्कि विलेन के रूप में भी उन्हें दर्शकों ने पसंद किया है हाल में ही वह सारा अली खान के साथ ‘ए वतन मेरे वतन’ में चिकित्सक राम मनोहर लोहिया के रोल में नजर आए हैं इस सिलसिले में इमरान हाशमी ने ‘जी न्यूज’ के साथ खास साक्षात्कार में ढेर सारे विषयों पर वार्ता की जहां उन्होंने अपनी पहली सैलरी से लुक्स तक को लेकर रिएक्ट किया पढ़िए ये खास इंटरव्यू

फिल्मों की मार्केटिंग पर
– मैं इस बारे में तो यही कहूंगा कि फिल्ममेकिंग बहुत बड़ा पार्ट है जब हम फिल्मों में आते हैं तो सबसे बड़ा पैशन होता है अभिनय करना शुरुआती दौर में मैं मार्केटिंग को इतना एन्जॉय नहीं करता था लेकिन ये बाजार है फिल्मों को घर-घर तक पहुंचाना भी एक महत्वपूर्ण हिस्सा है वर्ष 2015 के बाद से मार्केटिंग बहुत ही अग्रेसिवली की जाने लगी है अब सब अभिनेता इस चीज पर भी फोकस करते हैं अब मैं कई वर्ष बाद इस चीज को सरलता से कर पाता हूं

जब ये रोल मुझे ऑफर हुआ तो मैंने सबसे पहले यही सोचा कि मैं ही क्यों? तब करण जौहर ने मुझे कहा कि मैं कर सकता हूं वह मेरे काम को जानते हैं उन्हें मेरी रेंज पता है हर डायरेक्टर की एक नजर होती है कि कलाकार कैसा काम करते हैं और किसी क्या काबिलियत है इसी तरह करण जौहर को लगता था कि चिकित्सक राम मनोहर लोहिया का भूमिका मैं निभा सकता हूं इंडस्ट्री में मुझे लेकर ये परसेप्शन बना है कि डायरेक्टर और प्रोड्यूसर मुझपर विश्वास करते हैं मुझे बस ये डर था कि मैं इसे अच्छे से निभा सकूंगा कि नहीं लेकिन हमारी टीम का बहुत ही अच्छा सपोर्ट था अच्छे से सब कुछ हुआ और अच्छा रिस्पॉन्स भी मिल रहा है

कैसा रिस्पॉन्स मिला?

लोगों ने चिकित्सक राम मनोहर लोहिया के भूमिका को पसंद किया है उन्हें मेरा लुक अच्छा लगता है  इस रोल के लिए मुझे ये प्रशंसा मिली कि मैंने अपने कैटलॉक में ऐसा रोल चुना, जो अब तक मैंने नहीं किया था सब जानते हैं कि इस तरह के रोल को निभाना चुनौतीपूर्ण होता है बॉडी लैंग्वेज से लेकर डायलॉग डिलीवरी तक, सब पर काफी मेहनत करनी पड़ती है

‘ए वतन मेरे वतन’ में सारा अली खान की परफॉर्मेंस पर क्या कहेंगे?
मुझे सारा अली खान की परफॉर्मेंस बहुत अच्छा लगी उन्होंने एकदम स्ट्रेट अदाकारी की थी जहां जितनी आवश्यकता थी उतनी मेहनत डाली गई उन्होंने ‘ए वतन मेरे वतन’ में ऊषा मेहता का रोल प्ले किया डायलॉग डिलीवरी और बॉडी लैंग्वेज उनकी काबिल-ए-तारीफ थी

बार-बार किसिंग के प्रश्न किए जाते हैं तो क्या बुरा लगता है?
कई बार साक्षात्कार लेने वाला सोचता है कि किसिंग के बारे में पूछेंगे तो हैडलाइन बन सकती हैं मगर मेरी ऑडियंस मेरी वर्सेटिलिटी के बारे में जानती है मुझे बुरा भी नहीं लगता कि लोग किसिंग को लेकर मुझसे प्रश्न करते हैं या मुझे लेकर तरह तरह के नाम रखते है

‘मैं इमेज को लेकर काम नहीं करता हूं’
जब स्क्रिप्ट आपके पास आती है तो सबसे पहला फोकस कहानी और भूमिका पर होता है ये दोनों चीजें जब आपको पसंद आ जाए तो आप उस फिल्म को साइन कर लेते हैं दूसरे अभिनेता क्या करते हैं मुझे नहीं पता लेकिन मैं इमेज को लेकर काम नहीं करता मैं केवल कहानी और डायरेक्टर के विजन पर काम करता हूं

फैमिली में उड़ाया जाता था मजाक
मेरी फैमिली में जोक हुआ करता था कि मैं ट्रेडिशनल हीरो की तरह नहीं दिखता हूं एक हीरो की क्लियर कट डिफाइनिंग लुक होती है, मैं उसमें शायद फिट नहीं बैठता था वही एक चीज थी कि मुझे लगता था कि मैं शायद लुक में थोड़ा स्वयं को कमतर समझता था लेकिन वो भी डर नहीं था केवल एक ओपिनियन था शुरुआती समय में

एक क्रिटिक ने मुझे लेकर कमेंट किया था कभी कभी क्रिटिक पर्सनल हो जाते हैं मगर दो वर्ष बाद वो क्रिटिक मेरे पास आए थे मेरे घर डायरेक्टर बनना चाहते थे ऐसी ही इंडस्ट्री है कि पहले आपकी निंदा करती है फिर समय बदला तो मेरे साथ काम करना चाहता था

इमरान हाशमी का पहला चेक
इमरान हाशमी ने अपने फेवरेट को-स्टार में विद्या बालन और अजय देवगन का नाम लिया तो वहीं अपने पहले चेक के बारे में भी रिवील किया उन्होंने कहा कि उनकी पहली कमाई 2500 रुपये थी

Related Articles

Back to top button