वित्तीय एवं आईटी कंपनियों के शेयरों में आई इतनी उछाल, जाने सेंसेक्स के हाल

वित्तीय एवं आईटी कंपनियों के शेयरों में आई इतनी उछाल, जाने सेंसेक्स के हाल

वित्तीय एवं आईटी कंपनियों के शेयरों में उछाल के बल पर भारतीय शेयर मार्केट मंगलवार को लगातार पांचवें सत्र में हरे निशान के साथ बंद हुए. BSE का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 187.24 अंक यानी 0.51% की उछाल के साथ 36674.52 अंक पर बंद हुआ. 

NSE Nifty 36.00 अंक यानी 0.33% की बढ़त के साथ 10799.70 अंक पर बंद हुआ. Sensex पर Bajaj Finance के शेयरों में सबसे अधिक 7.84 फीसद की बढ़त देखने को मिली. वहीं, इंडसइंड बैंक का शेयर 6.10 फीसद की बढ़त के साथ बंद हुआ. बजाज फिनजर्व में 4.98 फीसद की बढ़त देखने को मिली.

बढ़त के साथ बंद हुए ये शेयर

इन्फोसिस के शेयर में 4.01 फीसद की बढ़त दर्ज की गई. आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक, एचसीएल टेक, एशियन पेंट्स, मारुति, एचडीएफसी, टेक महिंद्रा, नेस्ले इंडिया , टीसीएस, एसबीआई, टाइटन, एचडीएफसी बैंक व कोटक बैंक के शेयर हरे निशान के साथ बंद हुए.

गिरावट के साथ बंद हुए ये शेयर

एनटीपीसी का शेयर 2.78 फीसद की गिरावट के साथ बंद हुआ. आईटीसी, पावरग्रिड, टाटा स्टील, ओएनजीसी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज ऑटो, भारती एयरटेल, रिलायंस, लार्सन एंड टूब्रो, हिन्दुस्तान यूनिलीवर व सन फॉर्मा लाल निशान के साथ बंद हुए.

इन बातों को समझना है जरूरी

कारोबारियों के मुताबिक वैश्विक बाजारों में निर्बल इशारा के बावजूद घरेलू निवेशकों ने सतत विदेशी मुद्रा प्रवाह व अच्छे मॉनसून जैसी सकारात्मक चीजों पर ध्यान दिया. विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को 348.35 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे. हालांकि, कोविड-19 के बढ़ते मामलों का प्रभाव भी निवेशकों की धारणा पर देखने को मिला. इससे सेंसेक्स की बढ़त एक सीमा के भीतर रही.

शंघाई में शेयर मार्केट छोटी बढ़त के साथ बंद हुए. वहीं, हांगकांग, टोक्यो व सिओल में शेयर मार्केट लाल निशान के साथ बंद हुए. शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजारों में गिरावट देखी जा रही है.