बिज़नस

Smallcap स्टॉक्स में लगातार 30 महीने निवेश करने के बाद म्यूचुअल फंड हाउस ने निकाला पहली बार पैसा

Smallcap स्टॉक्स में लगातार 30 महीने निवेश करने के बाद म्यूचुअल फंड हाउस ने पहली बार पैसा निकाला है. एम्फी द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, मार्च में स्मॉल-कैप स्कीम से 97 करोड़ रुपये की निकासी की गई. आपको बता दें कि बाजार नियामक सेबी की चेतावनी के बाद कि छोटे और मध्यम-कैप शेयरों में बबल बन सकता है, म्यूचुअल फंड हाउस ने पहली बार निकासी की है. इतना ही नहीं मिडकैप स्टॉस में निवेश घटा है. मार्च में म्यूचुअल फंड द्वारा मिडकैप स्टॉक्स में निवेश 44 प्रतिशत घट गया.

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स ऑफ इण्डिया द्वारा 10 अप्रैल को जारी आंकड़ों के अनुसार, स्मॉलकैप फंडों में निकासी के कारण मार्च में ओपन-एंडेड इक्विटी म्यूचुअल फंडों में निवेश 16 फीसदी घटकर 22,633 करोड़ रुपये रह गया. हालांकि, इक्विटी फंडों में प्रवाह लगातार 37वें महीने सकारात्मक क्षेत्र में बना हुआ है. SIP से निवेश लगातार दूसरे महीने 19,000 करोड़ रुपये से अधिक रहा.

क्यों पैसा निकाल रहे म्यूचुअल फंड हाउस 

मार्च की आरंभ में, सेबी ने एम्फी के माध्यम से फंड हाउसों को कहा था कि वह मिड और स्मॉल-कैप शेयरों में बेरोकटोक तेजी को लेकर चिंतित है और उनसे इन श्रेणियों की योजनाओं से संबंधित अपनी निवेश प्रक्रियाओं को कठोर करने के लिए बोला था. इसने पहली बार फंड हाउसों से इस प्रकार की योजनाओं के लिए एक स्ट्रेस टेस्ट करने के लिए कहा, ताकि यह देखा जा सके कि उन्हें इन योजनाओं में अपने पोर्टफोलियो का एक बड़ा हिस्सा निकालने  में कितना समय लगेगा. मिड और स्मॉल-कैप शेयरों से संबंधित सेबी की चेतावनियां मुख्य रूप से इन शेयरों के उच्च मूल्यांकन पर चिंताओं पर आधारित थीं.

स्मॉलकैप और मिडकैप स्टॉक्स पर क्या असर? 

मार्केट एक्सपर्ट का बोलना है कि बीते एक वर्ष में स्मॉलकैप और मिडकैप स्टॉक्स में जबरदस्त तेजी दर्ज की गई है. कई स्टॉक्स ने 200% से 300 प्रतिशत तक बहुत बढ़िया रि​टर्न दिया है. कई स्टॉक्स मल्टीबैगर की श्रेणी में आ गए हैं. छोटी कंपनियों के शेयरों में यह तेजी म्यूचुअल फंड हाउस द्वारा निवेश करने से आया है. अब जब म्यूचुअल फंड हाउस अपना पैसा निकाल रहे हैं या निवेश कम कर रहे हैं तो इन स्टॉक्स में तेजी पर ब्रेक लगेगा. कई स्टॉक्स में बड़ी गिरावट भी देखने को मिल सकती है. इसलिए छोटे निवेशकों को केवल क्वालिटी स्टॉक्स में निवेश करके रखना चाहिए. वहीं, मुनाफे वाले स्टॉक्स से पैसा निकालकर लॉर्जकैप स्टॉक्स में पैसा लगाना चाहिए.

Related Articles

Back to top button