लॉजिस्टिक्स सेक्टर से जुड़ी एक कंपनी के शेयरों ने पिछले 3 साल में छप्परफाड़ दिया रिटर्न

लॉजिस्टिक्स सेक्टर से जुड़ी एक कंपनी के शेयरों ने पिछले 3 साल में छप्परफाड़ दिया रिटर्न
लॉजिस्टिक्स सेक्टर से जुड़ी एक कंपनी के शेयरों ने पिछले 3 वर्ष में छप्परफाड़ रिटर्न दिया है. यह कंपनी लैंसर कंटेनर लाइन्स लिमिटेड है. कंपनी के शेयरों में पिछले 3 वर्ष में 3500 पर्सेंट से अधिक की तेजी आई है. लैंसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) अब अपने शेयर बांटने (स्टॉक स्प्लिट) जा रही है. कंपनी के शेयरों का 52 सप्ताह का हाई लेवल 517.95 रुपये है. वहीं, कंपनी के शेयरों का 52 सप्ताह का लो लेवल 152.15 रुपये है. 

16 दिसंबर है स्टॉक स्प्लिट की रिकॉर्ड डेट
लैंसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने स्टॉक स्प्लिट के लिए 16 दिसंबर 2022 की रिकॉर्ड डेट फिक्स की है. कंपनी 10 रुपये फेस वैल्यू वाले अपने शेयरों को 5 रुपये की फेस वैल्यू में बांटने जा रही है. बोनस शेयर देने के मुद्दे में कंपनी का बहुत बढ़िया रिकॉर्ड है. कंपनी ने जनवरी 2018 में 3:5 के रेशियो में बोनस शेयर दिए. यानी, कंपनी ने हर 5 शेयर पर 3 बोनस शेयर दिए. लैंसर कंटेनर लाइन्स ने अक्टूबर 2021 में 2:1 के रेशियो में बोनस शेयर दिए. यानी, कंपनी ने हर 1 शेयर पर 2 बोनस शेयर दिए.   

3 वर्ष में कंपनी के शेयरों ने दिया 3600% का रिटर्न
लैंसर कंटेनर लाइन्स के शेयरों ने पिछले 3 वर्ष में 3600 पर्सेंट के करीब रिटर्न दिया है. कंपनी के शेयर 13 दिसंबर 2019 को बीएसई में 11.68 रुपये के स्तर पर थे. लैंसर कंटेनर लाइन्स के शेयर 8 दिसंबर 2022 को बीएसई में 457 रुपये के स्तर पर बंद हुए हैं. कंपनी के शेयरों ने इस वर्ष अब तक करीब 154 पर्सेंट का रिटर्न दिया है. वहीं, पिछले एक वर्ष में लैंसर कंटेनर लाइन्स के शेयर 112 पर्सेंट के करीब चढ़ गए हैं. पिछले 6 महीने में कंपनी के शेयर 115 पर्सेंट चढ़े हैं.  

शुरुआत से लेकर अब तक शेयरो  में 17000% से अधिक तेजी
लैंसर कंटेनर लाइन्स (Lancer Container Lines) के शेयरों में आरंभ से लेकर अब तक 17275 पर्सेंट की तेजी आई है. कंपनी के शेयर 13 अप्रैल 2016 को बीएसई पर 2.63 रुपये के स्तर पर थे. लैंसर कंटेनर लाइन्स के शेयर 8 दिसंबर 2022 को बीएसई पर 457 रुपये पर बंद हुए हैं. 

डिस्क्लेमर: यहां केवल शेयर के परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है, यह निवेश की राय नहीं है. शेयर बाजार में निवेश जोखिम के अधीन है और निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें.