Iphone के बाद अब इलेक्ट्रिक कार बनाएगा Apple, जानें लांचिंग पर क्या है रिपोर्ट

Iphone के बाद अब इलेक्ट्रिक कार बनाएगा Apple, जानें लांचिंग पर क्या है रिपोर्ट

नई दिल्ली। दुनियाभर में अपने बेहतरीन गैजेट्स और इनोवेशन के लिए जानी जाने वाली दिग्गज टेक कंपनी एप्पल (Apple) अब ऑटो सेक्टर में भी एक नई क्रांति लाने के लिए हाथ आज़माने की तैयारी कर रहा है। हाल ही में सामने आई न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार Apple 2024 तक अपनी कार के साथ ऑटो सेक्टर में धमाकेदार एंट्री की तैयारी में जुटा है।

इस आगामी एप्पल कार में कंपनी खुद के द्वारा तैयार की गई नेक्स्ट-लेवल बैटरी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करेगी। बता दें कि, साल 2014 में एप्पल अपने प्रोजेक्ट टाइटन (Project Titan) को लेकर काफी चर्चा में भी रहा था। एप्पल की कार को लेकर 2014 में ही पहली बार खबर आई थी, लेकिन बाद में एप्पल ने अपनी टेक्नॉलजी और सॉफ्टवेयर के डिवेलपमेंट तक खुद को फोकस किया और हर साल एक से बढ़कर एक धांसू प्रोडक्ट लॉन्च किए।

इनके हाथों में हैं कमान: अब एप्पल अपनी पहली इलेक्ट्रिक कार को लॉन्च करने की दिशा में काफी तेजी से काम कर रही है और साल 2024 एप्पल की पहली इलेक्ट्रिक कार दुनिया के सामने आ जाएगी। एप्पल ने सेल्फ-ड्राइविंग कार के निर्माण की जिम्मेदारी टेस्ला के पूर्व कर्मचारी डग फील्ड को सौंपी है। बता दें कि, 2018 में वह कंपनी के इस प्रोजेक्ट के साथ जुड़े थे तब से वह और उनकी टीम कार को लेकर काम कर रही है।

नई बैटरी टेक्नोलॉजी से क्या होगा असर? : रॉयटर्स की खबर के मुताबिक, ये दिग्गज टेक कंपनी एक ऐसी बैटरी के निर्माण में जुटी है जो इलेक्ट्रिक वाहनों में बैटरी की लागत को कम कर देगी। दरअसल (EV) इलेक्ट्रिक वाहनों में बैटरी की लागत ही सबसे अधिक मानी जाती है, लेकिन एप्पल की नई तकनीक इस लागत को कम करने के साथ-साथ वाहन की रेंज को भी बढ़ाएगी।

रिपोर्ट में बैटरी टेक्नोलॉजी को लेकर बताया गया है कि यह एक मोनो-सेल डिजाइन होगा और बैटरी में बल्क में इंडीविजुअल सेल्स मौजूद होंगे, इतना ही नहीं, बैटरी मैटेरियल को होल्ड करने वाले पाउच और मॉड्यूल को खत्म कर बैटरी पैक में स्पेस बनाएगा। यह डिजाइन ज्यादा एक्टिव मैटेरियल को बैटरी के अंदर पैक करने में सक्षम बनाता है जिससे कार को लंबी रेंज मिलेगी।

क्या हैं liDAR सेंसर और कैसे आएंगे काम?: Apple की फ्यूचर इलेक्ट्रिक कार में liDAR टेक्नोलॉजी का भी इस्तेमाल होगा जो कार को 3 डॉयमेंशनल व्यू देगा। कार में कई liDAR सेंसर का इस्तेमाल होगा जो अलग-अलग दूरी को मापने में सक्षम होंगे, यानी कोई भी ऑब्जेक्ट कितनी दूरी पर मौजूद है इस बात की पहचान करने में मदद करेंगे। याद दिला दें कि इन्हीं liDAR सेंसर का इस्तेमाल एप्पल ने अपने आईपैड प्रो 2020 मॉडल और आईफोन 12 प्रो मॉडल्स में भी किया है। 


Reliance Retail बनी दुनिया में दूसरी सबसे तेज ग्रोथ करने वाली खुदरा कंपनी

Reliance Retail बनी दुनिया में दूसरी सबसे तेज ग्रोथ करने वाली खुदरा कंपनी

अरबपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस रिटेल लिमिटेड (Reliance Retail Ltd) ने साल 2021 में विश्व की दूसरी सबसे तेज गति से ग्रोथ करने वाली खुदरा कंपनी का दर्जा प्राप्त किया है। डेलॉय की सालाना ग्लोबल रिटेल पावर हाउसेज रैंकिंग में रिलायंस रिटेल इस साल 53वें स्थान पर रही है। इससे पहले यह 56वें स्थान पर थी। इस तरह कंपनी ने इस साल अपनी स्थिति में 3 पायदान का सुधार किया है। रिलायंस रिटेल तेजी से ग्रोथ करने के मामले में पिछले वर्ष दुनिया में शीर्ष पर रही थी।

डेलॉय की खुदरा विक्रेताओं की इस सूची में अमेरिका की वालमार्ट इंक टॉप पर रही है। इस तरह वालमार्ट ने दुनिया के शीर्ष खुदरा विक्रेता के रूप में अपनी स्थिति को बरकरार रखा है। इसके अलावा अमेजन डॉट काम इस सूची में दूसरे स्थान पर रही है। इसके बाद अमेरिका की कोस्टको व्होलसेल कापोर्रेशन तीसरे स्थान पर रही है और जर्मनी का स्वार्ज ग्रुप चौथे स्थान पर रहा है।

इस सूची की टॉप-10 कंपनियों में से सात केवल अमेरिका की कंपनियां हैं। टॉप-10 कंपनियों में पांचवां स्थान क्रोगर कंपनी को, छठा स्थान वालग्रींस बूट्स एलायंस को, आठवां स्थान जर्मनी की अल्दी इंकॉफ जीएमबीएच एण्ड कंपनी ओएचीजी को, नौवां स्थान सीवीएस हेल्थ कॉर्पोरेशन को और दसवां स्थान ब्रिटेन की टेस्को पीएलसी को मिला है।

दुनिया की बड़ी खुदरा विक्रेता कंपनियों की इस सूची में रिलायंस रिटेल एक मात्र भारतीय कंपनी है। ग्लोबल पावर्स आफ रिटेलिंग और वर्ल्डस् फास्टेस्ट रिटेलर्स में लगातार चौथी बार रिलायंस का नाम आया है।


डेलॉय ने रिपोर्ट में कहा, ‘रिलायंस रिटेल, तेजी से बढ़ने वाली 50 कंपनियों में पिछले साल सबसे शीर्ष पर थी, लेकिन इस साल यह दूसरे स्थान पर रही है। रिलायंस रिटेल ने साल दर साल 41.8 फीसद की ग्रोथ प्राप्त की है। कंपनी ने 2019- 20 की समाप्ति पर उपभोक्ता इलेक्ट्रानिक्स, फैशन एवं जीवनशैली और किराना खुदरा श्रृंखला स्टोर में 13.1 फीसद ग्रोथ प्राप्त की।’


चीन ने जनसंख्या वृद्धि रोकने में हासिल की कामयाबी, लेकिन...       US सिक्योरिटी ने किए नष्ट, गोबर के उपले लेकर अमेरिका पहुंचा एक भारतीय शख्स       Italy की इस महिला को एक ही बार में लगे Pfizer Covid-19 Vaccine के 6 डोज       कोविड-19 वायरस के भारतीय स्ट्रेन को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने माना खतरनाक, कहा...       'इस्लाम को रियायत मिलने से फ्रांस को खतरा'       कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर भारतीय प्रस्ताव के समर्थन में विश्व स्वास्थ्य संगठन , चीफ साइंटिस्ट ने कहा...       साइबर हमले के बाद अमरीकी फ्यूल पाइपलाइन जल्द हो सकती है शुरू       अमेरिका में 12 से 15 वर्ष तक के बच्चों को लगेगी वैक्सीन       विदेश मंत्रालय ने कहा कि ईरान के ऑफिसरों ने सऊदी के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर सीधी वार्ता की पुष्टि की       गाजा पर रॉकेट से हमला, 20 लोग मारे गए       भारत में Covid-19 की दूसरी लहर में हो रही मौतों से विश्व स्वास्थ्य संगठन चिंतित, कहा...       कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं       बीते 24 घंटे में 3.29 लाख नए केस आए, 3876 मरीजों ने गंवाई जान       योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ डब्‍ल्‍यूएचओ       देश में अब तक 17.27 करोड़ से अधिक लोगों को लगी वैक्सीन       अफगानिस्तान में भारतीय राजनयिक विनेश कालरा का मृत्यु       जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी को लिखी पांच पन्नों की चिट्ठी, कहा...       कोविड-19 मुद्दे में केन्द्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय को दी अति उत्साह में निर्णय ना लेने की सलाह, कहा...       Ghazipur में गंगा नदी में दर्जनों लाशें दिखने से मचा हड़कंप       राहुल का प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी पर जोरदार हमला, कहा...