बिज़नस

Bank Licence Cancelled: आज के दिन अपना पैसा नहीं न‍िकाल सकेंगे इस बैंक के कस्टमर

City Co-Operative Bank: रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया (RBI) की तरफ से बैंकों के ख‍िलाफ सख्‍त कार्रवाई की जा रही है दो द‍िन पहले उत्तर प्रदेश स्‍थ‍ित‍ि एक बैंक का लाइसेंस रद्द करने के बाद आरबीआई ने बुधवार को एक और बैंक का लाइसेंस कैंसल कर द‍िया बैंक की तरफ से 19 जून 2024 से ही कामकाज बंद कर द‍िया गया है यानी 20 जून की सुबह बैंक जाने वाले खाते से अपना पैसा नहीं न‍िकाल सकेंगे इस बार केंद्रीय बैंक की तरफ से मुंबई के सिटी को-ऑपरेटिव बैंक ल‍िमिटेड का लाइसेंस रद्द क‍िया गया है

DICGC से पांच लाख रुपये तक पाने का हकदार

आरबीआई की तरफ से दी गई जानकारी में कहा गया क‍ि महाराष्ट्र के सहकारिता आयुक्त और रजिस्ट्रार को बैंक बंद करने और उसके लिए एक ल‍िक्‍व‍िडेटर अपाइंट करने का आदेश जारी करने के लिए भी बोला गया है बैंक के कामकाज बंद होने पर हर खाताधारक ड‍िपॉज‍िट इंश्‍योरेंस एंड क्रेड‍िट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) से पांच लाख रुपये की ल‍िमि‍ट तक अपनी जमा राशि की जमा बीमा दावा राशि प्राप्त करने का हकदार होगा

231 करोड़ रुपये का भुगतान पहले ही कर दिया
रिजर्व बैंक ने कहा, ‘बैंक के आंकड़ों के अनुसार, करीब 87 फीसदी जमाकर्ता डीआईसीजीसी (DICGC) से अपनी जमा राशि की पूरी राशि प्राप्त करने के हकदार हैं’ डीआईसीजीसी ने 14 जून, 2024 तक बैंक के संबंधित जमाकर्ताओं से प्राप्त ख़्वाहिश के आधार पर कुल बीमित जमाराशियों में से 230.99 करोड़ रुपये का भुगतान पहले ही कर दिया है रिजर्व बैंक ने बोला कि मुंबई स्थित सहकारी बैंक के पास पर्याप्त पूंजी और कमाई की संभावनाएं नहीं हैं

बैंक कामकाम रखेगा तो लोगों पर व‍िपरीत असर पड़ेगा
केंद्रीय बैंक ने कहा, अपनी मौजूदा व‍ित्‍तीय स्थिति के साथ बैंक अपने खाताधारकों को पूरा भुगतान करने में असमर्थ होगा यदि बैंक को आगे अपना कामकाज जारी रखने की अनुमति दी जाती है तो इससे लोगों पर व‍िपरीत असर पड़ेगा अपने लाइसेंस को रद्द करने के परिणामस्वरूप, सिटी को-ऑपरेटिव बैंक को बैंक का व्यवसाय करने से प्रतिबंधित कर दिया गया है, ज‍िसमें अन्य बातों के अलावा, जमा स्वीकार करना और जमा का री-पेमेंट शामिल है

दो द‍िन पहले को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड का लाइसेंस रद्द
दो द‍िन पहले ही आरबीआई ने पूर्वांचल को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड का लाइसेंस रद्द क‍िया है बैंक से जुड़े एक मुद्दे में प‍िछले वर्ष आरबीआई की जांच र‍िपोर्ट के आधार पर पूर्वांचल को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड के पूर्व प्रवर्तक राम बाबू शाण्डिल्य, व्यवस्था कमेटी, लेखा परीक्षक मेसर्स विजय के शर्मा एंड कंपनी, बैंक प्रोप्राइटर, पूर्व सीईओ विवेक पांडेय और संबंधित पार्टी और फर्म के विरुद्ध 30 अगस्त 2023 में केस दर्ज कराया गया था केंद्रीय बैंक पूर्वांचल को-ऑपरेटिव बैंक में 5 लाख रुपये से कम जमा करने वाले 912 खाताधारकों को 12.63 लाख करोड़ रुपये वापस कर चुकी है इसके अतिरिक्त 1691 अकाउंटहोल्‍डर को 22.92 करोड़ रुपये वापस करने का प्रोसेस चल रहा है

Related Articles

Back to top button