7th Pay Commission: नाइट ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों के लिए खुशखबरी

7th Pay Commission: नाइट ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों के लिए खुशखबरी

रेलवे के कर्मचारियों को सरकार की ओर से बड़ी राहत मिली है 7वें वेतन आयोग के अनुसार रेलवे ने नाइट ड्यूटी भत्ते (night duty allowance) के नियमों में कुछ परिवर्तन किए हैं जिससे रेलवे कर्मचारियों  को लाभ मिलने की आशा है  

रेलवे की ओर से बदले गए नियमों के अनुसार जिन रेलवे कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 43,600 रुपये से अधिक है उन्हें अब नाइट ड्यूटी अलाउंस नहीं दिया जाएगा वहीं 7वां वेतन आयोग लागू होने के बाद से जिन्हें भी नाइट ड्यूटी अलाउंस मिला है उनसे रिकवरी की बात भी कही गई थी वैसे रेलवे ने रिकवरी पर रोक लगाने के साथ ही Department of Personnel and Training (DOPT) को चिट्ठी लिखकर भिन्न भिन्न दशा में कार्य कर रहे कर्मचरियों की स्थिति को ध्यान में रखते हुए नाइट ड्यूटी अलाउंस की व्यवस्था करने की बात कही है  

Northern Railway के दिल्ली मंडल के महामंत्री अनूप शर्मा के अनुसार रेलवे ने वैसे नाइट ड्यूटी अलाउंस रिकवरी को रोक दिया है ये राहत की बात है रेलवे यूनियनों ने रेल मंत्रालय के सामने नाइट ड्यूटी अलाउंस के मामले को उठाया है रेलवे यूनियन की ओर से मांग की गई है कि यदि किसी कर्मचारी को नाइट ड्यूटी अलाउंस नहीं दिया जाता है तो उसे रात में बुलाया भी न जाए  

नाइट ड्यूटी अलाउंस के कैल्कुलेशन के नियमों में भी कुछ परिवर्तन किए गए हैं नयी व्यवस्था को तत्काल असर से लागू कर दिया गया है नाइट ड्यूटी अलाउंस के कैल्कुलेशन के लिए फॉर्मूला बनाया गया है, जो कि [(Basic pay+DA/200] फॉर्मूल के आधार पर किया जाएगा ये फॉर्मूला सभी सरकारी विभागों और मंत्रालयों में लागू होगा   

नाइट ड्यूटी अलाउंस का कैल्कुलेशन सभी कर्मचारियों के लिए भिन्न भिन्न उनकी बेसिक पे के आधार पर करना होगा अब तक एक ग्रेड पे के सभी कर्मचारियों को एक ही नाइड ड्यूटी अलाउंस दिया जाता था अब नयी व्यवस्था के अनुसार ही ये भत्ता मिलेगा  

कर्मचारी ने कितनी नाइट ड्यूटी की है इसका कैल्कुलेशन कर्मचारी के सुपरवाइजर की ओर से दिए गए सर्टिफिकेट के आधार पर किया जाएगा रात 10 बजे से प्रातः काल से 6 बजे के दौरान कार्य करने पर ही नाइट ड्यूटी अलाउंस बनेगा   

इंडियन रेलवे वे के कर्मचारियों ने हाल ही में HRMS में कमियों को लेकर जोरदार प्रदर्शन किया है ऑल इंडिया रेलवे फेडरेशन (AIRF) के आह्वान पर रेलकर्मियों का विरोध तेज हो गया है अपनी मांगों को पूरा करने के लिए उन्होंने रेलवे के प्रतिष्ठानों पर प्रदर्शन किया रेल कर्मचारी HRMS सिस्टम में सुधार या उसे रोकने की मांग कर रहे हैं  

इनका बोलना है कि HRMS की वजह से इन्हें बहुत ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पर रहा है इसकी वजह से प्रिविलेज पास (privilege passes), रिजर्वेशन और PF निकालने में समस्याएं आ रही हैं ऑल इंडिया रेल फेडरेशन (AIRF) के महासचिव शिव गोपाल मिश्रा ने बोला कि रेलवे और उनके परिवार के मेम्बर अंग्रजों के जमाने से रेलवे पास की सुविधा का फायदा उठा रहे हैं यह पहली बार है कि इस विशेषाधिकार (privilege) को छीनने की प्रयास हो रही है जिसे लेकर उनमें बहुत नाराजगी है     


Royal Enfield की इस सस्ती बाइक की मार्केट में धूम, बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी

Royal Enfield की इस सस्ती बाइक की मार्केट में धूम, बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी

भारतीय मार्केट में 350cc सेग्मेंट के बाइक्स की डिमांड हमेशा से रही है. दमदार इंजन और बेहतरीन परफॉर्मेंस के चलते इस सेग्मेंट में Royal Enfield की बाइक्स का दबदबा रहा है. हालांकि इस सेग्मेंट में रॉयल एनफिल्ड क्लॉसिक 350 सबसे अधिक बेची जाने वाली बाइक है, लेकिन कंपनी की सबसे सस्ती बुलेट ने बीते मार्च महीने में बहुत बढ़िया प्रदर्शन करते हुए बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी दर्ज की है. 


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीते मार्च महीने में Classic 350 की बिक्री में 30.41 परसेंट का वृद्धि देखने को मिला है. इस दौरान कंपनी ने इस बाइक के 31,696 यूनिट्स की बिक्री की है, जो कि पिछले वर्ष के मार्च महीने में महज 24,304 यूनिट्स थी. ये लंबे समय से कंपनी की बेस्ट सेलिंग बाइक है और युवाओं द्वारा खासी पसंद की जाती है. कंपनी इसके नेक्स्ट जेनरेशन मॉडल पर कार्य कर रही है जिसे जल्द ही मार्केट में उतारा जाएगा. 




वहीं दूसरे पायदान पर कंपनी की किफायती क्रूजर बाइक Meteor 350 ने अतिक्रमण जमाया है. कंपनी ने इस बाइक को पिछले वर्ष के अंत में मार्केट में लॉन्च किया था. बीते मार्च महीने में इस बाइक के कुल 10,596 यूनिट्स की बिक्री की गई है. क्रूजर सेग्मेंट में ये बाइक सबसे अधिक प्रसिद्ध है और बेस्ट सेलिंग है. इस बाइक को मार्केट में थंडरबर्ड के रिप्लेसमेंट के तौर पर पेश किया गया है. 


रॉयल एनफील्ड की सबसे सस्ती बाइक Bullet 350 ने मार्च महीने में सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है. बीते मार्च महीने में कंपनी ने इस बाइक के कुल 9,693 यूनिट्स की बिक्री की है जो कि पिछले वर्ष के मार्च महीने के मुकाबले पूरे 286.64 परसेंट अधिक है. पिछले वर्ष के मार्च महीने में कंपनी ने इस बाइक के महज 2,507 यूनिट्स की बिक्री की थी. 




कंपनी की Electra 350 ने भी बीते मार्च महीने में ग्रोथ दर्ज की है, इस दौरान कंपनी ने इस बाइक के कुल 4,914 यूनिट्स की बिक्री की है. जो कि पिछले वर्ष के मार्च महीने में महज 3,160 यूनिट्स थी. वहीं इस सेग्मेंट में होंडा की हाल ही में पेश की गई Honda CB350 ने भी अपना नाम दर्ज कराया है और सेग्मेंट की पांचवी बेस्ट सेलिंग बाइक बनी है. बीते मार्च महीने में इस बाइक के कुल 4,302 यूनिट्स की बिक्री की गई है. 


Suzuki Hayabusa का नया अवतार इस दिनांक को होगा लॉन्च, मूल्य       Royal Enfield की इस सस्ती बाइक की मार्केट में धूम, बिक्री में पूरे 286 परसेंट की बढ़ोत्तरी       Ola Electric हिंदुस्तान में लगाएगा दुनिया का सबसे बड़ा चार्जिंग सेटअप       दमदार ड्राइविंग रेंज के साथ महज 18 मिनट में होगी चार्ज, Ola इलेक्ट्रिक स्कूटर जुलाई मे होगी लॉन्च       लीक हुई Mi 11X Pro और Mi 11X की कीमत       जानिए कैसा है 48MP कैमरे वाला यह स्मार्टफोन       WhatsApp यूजर्स के लिए चेतावनी! भूलकर भी नहीं करें ये गलतियां       Realme के 6000mAh बैटरी वाले फोन की मूल्य में कटौती       Apple ने हिंदुस्तान में लॉन्च किया iPad Pro, बढ़िया डिस्प्ले और 5G कनेक्टिविटी के साथ मिलेंगे कई खास फीचर्स       कार या बाइक चलाते समय नहीं कटवाना चाहते हैं Challan तो इन ऐप का करें इस्तेमाल       जोड़ों के दर्द या अर्थराइटिस की समस्या से आराम दिलाती है ब्रोकली       सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलु उपाय       अगर कमजोर हो गयी है आपकी याददाश्त तो जरूर करें ये उपाय       गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए जरुरी है इन चीजों का सेवन       आखिर प्रेग्नेंसी में क्यों दी जाती है सूखा नारियल खाने की सलाह       क्या आप भी प्लान कर रहे हैं बच्चा तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये चीजें       शायद आप नहीं जानते होंगे नाश्ते में अंडे खाने के ये जबरदस्त फायदे       दांतों को कमजोर बना सकती हैं ये चीजें, भूलकर भी ना करें इन चीजों का सेवन       गर्मियों में तरबूज का ज्यादा सेवन भी सेहत को पहुंचा सकता है नुकशान       गले के रोग को हल्के में न लें, लापरवाही बन सकती है इस बड़ी बीमारी की वजह