सोने-चांदी के दाम में क्यों आ रहे उतार-चढ़ाव, ऐसे करें निवेश

सोने-चांदी के दाम में क्यों आ रहे उतार-चढ़ाव, ऐसे करें निवेश

लखनऊ: कोरोना संकट के दौरान सोने के निवेशकों के लिए अच्छा रहा है। सुरक्षित निवेश के तौर पर गोल्ड में जमकर पैसों की बारिश हुई। यही वजह रही कि सोने का भाव अपने रिकॉर्ड स्तर तक पहुंचा। लेकिन, धीरे-धीरे कोरोना वैक्सीन के आने की खबरों ने इसकी लगाम खींच दी। रुपए (Rupee) में मजबूती लौटी। शेयर बाजार भी रफ्तार पकड़ने लगे। अब सोने में निवेश (Gold Investment) उतना आकर्षक नहीं रहा। दाम नीचे की तरफ तेजी से गिर रहे हैं। पिछले तीन हफ्ते में गोल्ड का भाव 4000 रुपए तक गिर चुका है। वहीं, रिकॉर्ड हाई से 8000 रुपए प्रति 10 ग्राम तक लुढ़क गया है।

42000 रुपए तक गिर सकती हैं कीमतें
सोने के भाव में फिलहाल तेजी की कोई उम्मीद नहीं है। विशेषज्ञों का कहना है कि फरवरी 2021 तक गोल्डक के भाव 42,000 रुपए प्रति 10 ग्राम के आसपास पहुंच सकते हैं। वहीं, चांदी की कीमतों में भी बड़ी कमी देखने को मिल सकती है।


सोना अगस्त महीने में 56,200 रुपए प्रति 10 ग्राम पहुंचा था। यह सोने का सबसे उच्चतम स्तर था। शुक्रवार को दिल्लीप सराफा बाजार में सोने का भाव 48,142 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। सोने की कीमतों में रिकॉर्ड हाई से 8,058 रुपए प्रति 10 ग्राम सस्ता हो चुका है।

क्यों बढ़ी सोने की इतनी अधिक कीमत
इस साल सोने के दाम में तगड़ी तेजी की वजह कोरोना वायरस रहा, जिसकी वजह से लोग निवेश का सुरक्षित ठिकाना ढूंढ रहे थे। सोने में निवेश हमेशा से ही सुरक्षित रहा है। कोरोना की वजह से शेयर बाजार में लोगों ने निवेश कम कर दिया, क्योंकि शेयर बाजार में निवेश रिस्की होता है। इस स साल जनवरी-फरवरी में तो सोना धीरे-धीरे बढ़ रहा था, लेकिन मार्च में भारत में कोरोना वायस की दस्तक के बाद इसने स्पीड पकड़ ली।

यहां जानें क्यों आ रही है सोने में गिरावट
कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए वैक्सीन के मोर्चे पर सकारात्मक खबरों से सोने की कीमतों में गिरावट आ रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि ग्लोबल इकनॉमी में सुधार और अमेरिका-चीन के बीच तनाव कम होने से निवेशक सोने को छोड़कर शेयर बाजार का रुख कर रहे हैं। यही वजह है कि निकट भविष्य में सोने की कीमतों में भारी उछाल की संभावना नहीं है। हालांकि, लंबी अवधि के लिए सोना अभी भी निवेश का अच्छा विकल्प माना जा रहा है।

कैसी रहेगी साल 2021 में सोने की चाल
भारत में सोने की कीमतें पहली बार अगस्त 2020 में अपने उच्चतम स्तर पर पहुंची थीं। सोने की कीमतें करीब 56,200 रुपये के उच्चतम स्तर तक गई थीं। उसकी वजह थी कोरोना वायरस की वजह से बढ़ रही चिंताएं, जिसके चलते लोग सोने में निवेश करना पसंद कर रहे थे, क्योंकि ये निवेश का एक सुरक्षित ठिकाना माना जाता है। लेकिन जैसे ही कोरोना वैक्सीन की घोषणा हुई, देखते ही देखते सोने में गिरावट का सिलसिला शुरू हो गया है और गिरते-गिरते सोना 47 हजार के करीब भी जा पहुंचा। अभी सोना 50 हजार के स्तर के आस-पास कारोबार कर रहा है। ऐसे में निवेशकों में इस साल यानी 2021 में सोने की चाल को लेकर चिंता है कि सोना कैसा कारोबार करेगा।

यहां जानें कैसे करें सोने-चांदी में निवेश, क्या कहते हैं विशेषज्ञ
डॉलर इंडेक्स में उतार-चढ़ाव होने की वजह से मंगलवार को विदेशी बाजार में सोने-चांदी में उठापटक देखने को मिली थी। विदेशी बाजार के साथ-साथ घरेलू वायदा बाजार यानि MCX पर भी सोना-चांदी (MCX Gold Silver Free Tips) उतार-चढ़ाव के साथ बीते सत्र में बंद हुए थे।

विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका में कोरोना वायरस वैक्सीन आने के बावजूद दूसरे देशों में पिछले 15 दिन में संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। यही वजह है कि सोने-चांदी की सुरक्षित निवेश मांग में इजाफा देखा जा रहा है। यहां हम आज के कारोबार सोने-चांदी में निवेश को लेकर जानकारों को नजरिया जानने की कोशिश करते हैं।

सोने का फरवरी वायदा भाव 49,400 रुपये के लक्ष्य पर
कमोडिटी मार्केट एक्सपर्ट वीरेश हीरेमथ ने बताया कि इंट्राडे में MCX पर सोना फरवरी वायदा में 49,400 रुपये के लक्ष्य के लिए 49,100 रुपये के भाव पर खरीदारी कर सकते हैं। सोने के इस सौदे के लिए 48,900 रुपये का स्टॉपलॉस लगा सकते हैं। चांदी मार्च वायदा में 66,000 रुपये के भाव पर खरीदारी करके 66,600 रुपये का लक्ष्य हासिल कर सकते हैं। चांदी के इस कॉन्ट्रैक्ट के लिए 65,700 रुपये का स्टॉपलॉस लगाना चाहिए।


स्मार्टफोन स्क्रीन पर लगे स्क्रैच को हटाने के लिए अपनाएं ये खास ट्रिक्स

स्मार्टफोन स्क्रीन पर लगे स्क्रैच को हटाने के लिए अपनाएं ये खास ट्रिक्स

जब हम नया मोबाइल खरीदते हैं तो शुरुआत में उसकी स्टाइल और डिजाइन बहुत अच्छी लगती है। मोबाइल की चमचमाती स्क्रीन सबको अपनी ओर आकर्षित करती है। लेकिन कुछ समय बाद जब स्क्रीन पर स्क्रैच पड़ने लगते हैं तो स्मार्टफोन की खूबसूरती फीकी पड़ जाती है। हम बहुत कोशिश करते हैं कि मोबाइल की स्क्रीन पर एक भी स्क्रैच न आए, लेकिन न चाहते हुए भी कई बार स्क्रैच लग ही जाते हैं। ऐसे में स्क्रीन गंदी लगने लगती है। आज हम आपको कुछ ऐसे आसान तरीके बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आप अपने फोन की स्क्रीन पर लगे स्क्रैच हट जाएंगे और आपके मोबाइल की स्क्रीन फिर से नई लगने लगेगी।

1 मैजिक इरेजर
मैजिक इरेजर स्क्रीन के स्क्रैच हटाने का सबसे अच्छा उपाय है। बता दें कि मैजिक इरेजर का उपयोग वैसे तो गंदगी को साफ करने के लिए किया जाता है, लेकिन यह मोबाइल की स्क्रीन पर लगे छोटे-छोटे स्क्रैच को भी साफ कर देता है। हालांकि इसका उपयोग करने में आपको थोड़ी सावधानी बरतनी होगी।

2 टूथपेस्ट
दांतों को चमकाने वाले टूथपेस्ट से भी मोबाइल स्क्रीन पर लगे स्क्रैच हटा सकते हैं। सबसे पहले कॉटन में थोड़ा सा टूथपेस्ट लें और उसे पूरी स्क्रीन पर अच्छे से लगा दें। हां, स्पीकर को बचाकर रखें। थोड़ी देर बाद साफ कॉटन से उस टूथपेस्ट को साफ कर लें। इससे छोटे-मोटे स्क्रैच हट जाएंगे। या रहे कि जेल वाले टूथपेस्ट का उपयोग न करें, सिर्फ सफेद टूथपेस्ट से यह नुस्खा अपनाएं।

3 कार वैक्स
कार को चमकाने के लिए कार वैक्स पॅालिश का इस्तेमाल किया जाता है। जब कार पर वैक्स से पॉलिश की जाती है तो उस पर लगे छोटे-छोटे स्क्रैच हट जाते हैंं। इस वैक्स का उपयोग आप मोबाइल की स्क्रीन पर लगे स्क्रैच को हटाने में भी कर सकते हैं। थोड़ी-सी पॉलिश स्क्रीन पर लगाकर उसे कॉटन से घिसे। इसके बाद बाद उसे थोड़ी देर के लिए सूखने के लिए छोड़ दें। सूखने के बाद उसे कॉटन से साफ कर लें। आपके फोन की स्क्रीन चमक उठेगी और स्क्रैच भी गायब हो जाएंगे। 

4 बेकिंग सोडा
बेकिंग सोडा से भी आप फोन के स्क्रैच को हटा सकते हैं। इसके लिए आपको बेकिंग सोडा को पानी में मिलाकर उसका पेस्ट बना लें। अब उस पेस्ट को कॉटन में लेकर मोबाइल की स्क्रीन पर लगाएं। पेस्ट को लगाकर थोड़ी देर के लिए छोड़ दें। सूख जाने पर उसे कॉटन या कपड़े से साफ कर लें। आपके मोबाइल की स्क्रीन चकमने लगेगी और छोट-मोटे स्क्रैच भी हट जाएंगे।

5 पैंसिल इरेज़र
पैंसिल इरेजर से भी फोन के स्क्रैच मिटाए जा सकते हैं। स्क्रैच हटाने के लिए पैंसिल इरेजर से धीरे-धीरे और हल्के हाथों से स्क्रीन पर घिसना है। थोड़ी देर में ही स्क्रीन से छोटे-मोटे खरोंच गायब हो जाएंगे। याद रहे कि इरेजर अच्छी क्वॉलिटी का और सॉफ्ट होना चाहिए।


जानिए, अचार स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है या नुकसानदायक?       मिनटों में दूर होगा सिरदर्द, अपनाएं ये घरेलू उपाय       हर महिला को पता होनी चाहिए इस बीमारी से जुड़ी यह जानकारी       शरीर को कई गंभीर बीमारी से लड़ने की शक्ति देता हैं बेर       कैंसर के खतरे को कम करने से लेकर आंखों को स्वस्थ रखने में कारगर है रास्पबेरी       कप्तान विराट कोहली ने ऐसे किया बचाव, धूल उड़ती पिच पर टिक नहीं पाए बल्लेबाज       16 चौके व 2 छक्कों की मदद से बनाए 115 रन, प्रियम गर्ग ने अपनी टीम के लिए लगाया शतक       Road Safety World Series 2021 में इंग्लैंड की टीम की कप्तानी करेगा ये दिग्गज       क्रिकेट करियर में 972 विकेट चटकाने वाले भारतीय गेंदबाज ने की संन्यास की घोषणा       दो विश्व कप जीतने वाले खिलाड़ी यूसुफ पठान ने लिया संन्यास       डीजल-पेट्रोल मूल्य वृद्वि के खिलाफ  कांग्रेस का मशाल जुलूस       ग्रिजली विद्यालय में ऑनलाइन सीसीए के तहत कार्यक्रम आयोजित       डिजिटल डिवाइस के माध्यम से छात्र-छात्राओं कराया जायेगा पठन-पाठन, जिले के 25 हाई स्कूल में स्मार्ट क्लास की स्थापना       Sidharth Shukla से एक यूजर ने कहा, 'शहनाज गिल के साथ फ्रेंडशिप पड़ रही हैं महंगी'       Priya Prakash Varrier Video: शूटिंग के दौरान प्रिया प्रकाश वारियर हुईं हादसे का शिकार       OTT Platform Guidelines: 'सेक्रेड गेम्स 2' से लेकर 'तांडव' तक, इन वेब सीरीज पर मचा बवाल       कैंसर के इलाज करा रहीं राखी सावंत की मां का अस्पताल से इमोशनल वीडियो आया सामने       Lisa Haydon तीसरी बार बनने जा रही हैं मां, बेबी बम्प के साथ किया डांस       सहवाग ने इग्लैंड के बल्लेबाजों को किया ट्रोल, राहुल गांधी का ये वीडियो किया शेयर       सपा पर बरसे CM योगी, यहां गर्मी दिखाने की जरूरत नहीं