बिज़नस

शनिवार और रविवार को भी खुलेंगे ये बैंक

Are banks open today : चालू वित्त साल 2023-24 31 मार्च को खत्म हो रहा है. आरबीआई (RBI) के निर्देश के मुताबिक कुछ बैंकों को शनिवार (30 मार्च) और रविवार (31 मार्च) को सरकारी लेन-देन के लिए खुलना होगा. आरबीआई की एक ताजा अधिसूचना के अनुसार, केंद्र गवर्नमेंट ने एजेंसी बैंकों को सरकार रिसिप्ट्स और पेमेंट्स से जुड़ी अपनी सभी शाखाएं खोलने का निवेदन किया है. अधिसूचना में लिखा गया है, “भारत गवर्नमेंट ने 31 मार्च, 2024 (रविवार) को सरकारी लेन-देन से संबंधित सभी बैंकों की शाखाओं को लेन-देन के लिए खुला रखने का निवेदन किया है, ताकि वित्त साल 2023-24 में ही रिसिप्ट्स और पेमेंट्स से संबंधित सभी सरकारी लेन-देन का हिसाब हो सके. इसके अनुसार, एजेंसी बैंकों को यह राय दी जाती है कि वे अपने सरकारी कारोबार से जुड़ी सभी शाखाओं को 31 मार्च, 2024 (रविवार) को खोल दें.

एजेंसी बैंक क्या होते हैं?

भारतीय रिजर्व बैंक ने 12 सरकारी बैंकों, 20 निजी बैंकों और एक विदेशी बैंक को एजेंसी बैंक के रूप में नामित किया है. ये एजेंसी बैंक केंद्र गवर्नमेंट के काम भी करते हैं. ये एजेंसी बैंक निम्न हैं:

  1. बैंक ऑफ बड़ौदा
  2. बैंक ऑफ इंडिया
  3. बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  4. कैनरा बैंक
  5. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  6. इंडियन बैंक
  7. इंडियन ओवरसीज बैंक
  8. पंजाब और सिंध बैंक
  9. पंजाब नेशनल बैंक
  10. भारतीय स्टेट बैंक
  11. यूको बैंक
  12. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  13. एक्सिस बैंक लिमिटेड
  14. सिटी यूनियन बैंक लिमिटेड
  15. डीसीबी बैंक लिमिटेड
  16. फेडरल बैंक लिमिटेड
  17. एचडीएफसी बैंक लिमिटेड
  18. आईसीआईसीआई बैंक लिमिटेड
  19. आईडीबीआई बैंक लिमिटेड
  20. आईडीएफसी फर्स्ट बैंक लिमिटेड
  21. इंडसइंड बैंक लिमिटेड
  22. जम्मू और कश्मीर बैंक लिमिटेड
  23. कर्नाटक बैंक लिमिटेड
  24. करूर वैश्य बैंक लिमिटेड
  25. कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड
  26. आरबीएल बैंक लिमिटेड
  27. साउथ भारतीय बैंक लिमिटेड
  28. यस बैंक लिमिटेड
  29. धनलक्ष्मी बैंक लिमिटेड
  30. बंधन बैंक लिमिटेड
  31. सीएसबी बैंक लिमिटेड
  32. तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक लिमिटेड
  33. डीबीएस बैंक इण्डिया लिमिटेड

बैंक ब्रांचों में क्या होगा काम?

ग्राहक नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) और रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) सिस्टम के माध्यम से लेनदेन कर सकते हैं. इसके अलावा, एजेंसी बैंक सरकारी खातों से जुड़े चेक क्लियर करेंगे. वहीं, जो लोग गवर्नमेंट को टैक्स पेमेंट करना चाहते हैं, वे एजेंसी बैंकों की शाखाओं में जाकर भी ऐसा कर सकते हैं. हालांकि, यह अभी साफ नहीं है कि क्या एजेंसी बैंकों की शाखाएं शनिवार और रविवार को एफडी, पीपीएफ में निवेश या पासबुक अपडेट करने और अन्य संबंधित गतिविधियों जैसी ऑफलाइन सेवाएं भी प्रदान करेंगी या नहीं.

Related Articles

Back to top button