बिज़नस

टू-व्हीलर की बिक्री में 13 फीसदी का आया बड़ा उछाल

देश का ऑटोमोबाइल सेक्टर बूम पर है. टू-व्हीलर से लेकर कार, बस और ट्रक की जबरदस्त मांग बनी हुई है. इससे गाड़ियों की बिक्री के नए रिकॉर्ड बन रहे हैं. आपको बता दें कि हिंदुस्तान में यात्री वाहनों की थोक बिक्री वित्त साल 2023-24 में सालाना आधार पर 8.4 फीसदी बढ़कर 42,18,746 इकाई हो गई. उद्योग निकाय सियाम ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. वित्त साल 2022-23 में कुल यात्री गाड़ी आपूर्ति 38,90,114 इकाई रही थी.

दोपहिया वाहनों की बंपर बिक्री 

सियाम की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले वित्त साल 2023-24 में दोपहिया वाहनों की बिक्री 13.3 फीसदी बढ़कर 1,79,74,365 इकाई रही, जबकि वित्त साल 2022-23 में यह 1,58,62,771 इकाई थी. समीक्षाधीन अवधि में सभी श्रेणियों में गाड़ी बिक्री 12.5 फीसदी बढ़कर 2,38,53,463 इकाई रही जो वित्त साल 2022-23 में 2,12,04,846 इकाई थी.

मोटर गाड़ी खुदरा बिक्री 10 फीसदी बढ़ी 

हाल ही में यात्री वाहन, तिपहिया गाड़ी और ट्रैक्टर की रिकॉर्ड बिक्री के दम पर मोटर गाड़ी खुदरा बिक्री में वित्त साल 2023-24 में दोहरे अंक की वृद्धि देखी गई. डीलरों के संगठन फाडा ने यह जानकारी दी थी. पिछले वित्त साल में मोटर गाड़ी खुदरा बिक्री 10 फीसदी बढ़कर 2,45,30,334 इकाई हो गई, जबकि 2022-23 में यह 2,22,41,361 इकाई थी. यात्री वाहनों, तिपहिया वाहनों और ट्रैक्टरों की पिछले साल रिकॉर्ड बिक्री हुई. वहीं मार्च में कुल पंजीकरण सालाना आधार पर तीन फीसदी की बढ़त के साथ 21,27,177 इकाई रहा. मार्च 2023 में 3,43,527 इकाइयों की तुलना में यात्री गाड़ी की खुदरा बिक्री छह फीसदी घटकर 3,22,345 इकाई रही. हालांकि, पिछले महीने दोपहिया वाहनों का पंजीकरण सालाना आधार पर पांच फीसदी बढ़कर 15,29,875 इकाई हो गया.

Related Articles

Back to top button