बिहार

प्यार के चक्कर में गई लड़की की जान, गंगा में बहाया शव

जमुई: बिहार के जमुई से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है यहाँ जिले के बरहट थाना क्षेत्र के पाड़ो गांव के रहने वाले कुंदन नाम के शख्स को कोचिंग में एक लड़की से प्यार हो गया था लगभग 4 वर्षों तक दोनों के बीच अफेयर चलता रहा दोनों एक दूसरे के साथ विवाह करना चाहते थे कुंदन ने बात करने के लिए लड़की को मोबाइल भी दिया था ये बात लड़की के पिता अशोक वर्णवाल को पता चली तो मोबाइल ले लिया तथा कठोरता बरतना प्रारम्भ कर दिया फिर भी दोनों चोरी छिपे मिलते रहे 20 फरवरी को कुंदन को पता चला कि उसकी प्रेमिका साक्षी प्रिया की मृत्यु हो गई घरवालों ने बोला कि साक्षी ने खुदखुशी कर ली कुंदन को इस बात पर भरोसा नहीं हो रहा है कुंदन का बोलना है कि साक्षी कहती थी कि उसके पापा उसे मार डालेंगे कुंदन और साक्षी के बीच चल रहे अफेयर के बारे में कुंदन की मां को भी पता था कुंदन की मां ने साक्षी से बात भी की थी

लड़की के पिता अशोक वर्णवाल ने 21 फरवरी 2024 को बरहट पुलिस स्टेशन में कम्पलेन कर कहा कि उनकी बेटी साक्षी प्रिया को किडनैपिंग कर लिया गया है वो लापता है इस कम्पलेन के पश्चात् पुलिस ने मुद्दे की जाँच प्रारम्भ की तो पता चला कि लड़की की मृत्यु हो गई है उसके मृतशरीर को घरवालों ने ही ठिकाने लगा दिया है लड़की ने खुदखुशी की या फिर उसकी मर्डर कर दी गई, पुलिस इस मुद्दे का अभी खुलासा नहीं कर सकी है अभी तक लड़की की मृत-शरीर भी बरामद नहीं हुई है पुलिस के मुताबिक, साक्षी के पिता अशोक वर्णवाल ने अपने सहयोगी पनपुरवा गांव के डाक्टर आर कृष्णा के साथ मिलकर साक्षी के मृतशरीर को रात में अपनी वाहन से मुंगेर ले जाकर गंगा में प्रवाहित कर दिया फिर 21 फरवरी की प्रातः आर कृष्णा के बोलने पर अशोक ने बरहट पुलिस स्टेशन में साक्षी के प्रेमी कुंदन के विरुद्ध विवाह के लिए साक्षी का किडनैपिंग करने की कम्पलेन कर दी

वही इस मुद्दे की तहकीकात के चलते पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि लड़की की मृत्यु हो चुकी है तथा उसके मृतशरीर को घरवालों ने गंगा में प्रवाहित कर दिया है फिर बरहट थानाध्यक्ष कुमार संजीव ने लड़की के पिता अशोक और आर कृष्णा को पकड़कर पूछताछ की दोनों से पूछताछ के पश्चात् पुलिस उन्हें मुंगेर लेकर गई और गंगा में मोटरबोट के सहारे मृतशरीर की तलाश आरम्भ की काफी खोजबीन के बाद भी मृतशरीर बरामद नहीं हो सका पुलिस ने कहा कि मृतशरीर को ठिकाने लगाने के पर्याप्त सबूत मिल चुके हैं लड़की की मां के अनुसार, बेटी ने खुदकुशी कर ली, जिसके बाद उसके पिता नर्वस हो गए तथा अपने चिकित्सक दोस्त की सहायता से मृतशरीर को उसी रात मुंगेर ले जाकर गंगा नदी में प्रवाहित कर दिया

 

Related Articles

Back to top button