पटना एयरपोर्ट पर टला हादसा, धुंध के कारण आगे निकल गया था विमान, झटके से सहम गए यात्री

पटना एयरपोर्ट पर टला हादसा, धुंध के कारण आगे निकल गया था विमान, झटके से सहम गए यात्री

जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर रविवार की शाम को अजीबोगरीब स्थिति देखने को मिली। बेंगलुरु से आई स्पाइसजेट की फ्लाइट धुंध के कारण हार्ड लैंडिंग हो गई। इसके कारण फ्लाइट को कंट्रोल करने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगाना पड़ा, जिससे यात्रियों में काफी घबराहट होने लगी थी। हालांकि पायलट की कुशलता से कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। जानकारी के मुताबिक हार्ड लैंडिंग के कारण रविवार को स्पाइसजेट की बेंगलुरू वाली फ्लाइट सवा घंटा देर से उड़ी। फ्लाइट शाम छह बजे में पटना एयरपोर्ट पर समय से लैंड हुई थी। लैंड‍िंग के समय धुंध की वजह से पायलट को रनवे पर जहां विमान उतरना चाहिए था, उससे थोड़ा आगे उतरा।

छोटे रनवे के कारण सामान्‍य लैंडिंग में भी दिक्‍कत

मालूम हो कि पटना एयरपोर्ट का रनवे छोटा है जहां विमान दौड़ाने की अधिक गुंजाइश नहीं है और सामान्य लैंडिंग में भी ब्रेक का इस्तेमाल करना पड़ता है। ऐसे में थोड़ा दूर लैंड करने के कारण विमान को और भी तेज इमरजेंसी ब्रेक का इस्तेमाल करना पड़ा। इसके कारण लैंडिंग के बाद विमान को खड़ा कर उसके ब्रेक समेत कई पार्ट पुर्जों की चेक‍िंग की गई। उसमें सब कुछ ठीक मिलने के बाद विमान में यात्रियों को बिठाना शुरू किया गया और रात आठ बजे तय समय 6.45 बजे से सवा घंटा देरी से विमान वापस बेंगलुरू रवाना हुई।

कोहरा शुरू होते ही  कमी ट्रेनों की रफ्तार

कोहरा शुरू होते ही उत्तर भारत से गुजरने वाली ट्रेनों की रफ्तार पर ब्रेक लगने लगा है। हालांकि अभी ज्यादातर प्रमुख ट्रेनें सही समय पर चल रही हैं। अधिक कोहरा होने के बाद इनकी रफ्तार भी डगमगाने लगेंगी। नई दिल्ली से आने वाली पूजा स्पेशल 01664 आनंदविहार पटना एक्सप्रेस रविवार को ढाई घंटे विलंब से पहुंची। देहरादून से हावड़ा जाने वाली 02328 उपासना एक्सप्रेस तीन घंटे विलंब से पटना जंक्शन पहुंची। इसी तरह अमृतसर से हावड़ा जाने वाली 13006 पंजाब मेल भी दो घंटे, भागलपुर से नई दिल्ली जाने वाली गरीब रथ छह घंटे विलंब से दिल्ली पहुंची है।


बिहार में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर अलर्ट

बिहार में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर अलर्ट

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रान को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों को अलर्ट जारी किया है। जिलों के सभी सिविल सर्जन और मेडिकल अफसरों को निर्देश दिए गए हैं कि नए वैरिएंट को लेकर विशेष सावधानी बरतें। यदि कोविड रूटीन टेस्ट के दौरान कहीं किसी भी जिले से कोई विशेष जानकारी या सूचना मिलती है तो तत्काल स्वास्थ्य मुख्यालय को इसकी जानकारी दें। राज्य स्वास्थ्य समिति की ओर से अन्य देशों में मिले कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर जिलों को हिदायती पत्र भेजा गया है। बता दें कि विदेश से लौटे बिहार के 281 लोगों की सूची केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने सौंपी है। 

लगातार अधिक से अधिक टेस्ट करने के निर्देश

मुख्यालय की ओर से जारी दिशा निर्देश के अनुसार प्रदेश में जितने भी आरटीपीसीआर लैब हैं वे लगातार अधिक से अधिक कोविड टेस्ट करते रहें। जांच में कोई कमी नहीं आनी चाहिए। राज्य के बाहर से आने वालों पर भी नजर रखने और उनकी जांच के आदेश जिलों को दिए गए हैं।

विदेश से लौटे 281 यात्रियों की सूची सौंपी

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से दो दिन पहले ही बिहार से बने पासपोर्ट के आधार पर 281 यात्रियों की सूची सौंपी गई है। ये सभी यात्री हाल ही में स्वदेश वापस लौटे हैं। मंत्रालय ने इन यात्रियों की पहचान कर इनकी जीनोम सिक्वेंसिंग के आदेश शनिवार को ही जारी किए थे। 

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने किया अलर्ट

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि जिलों को नए कोरोना वैरिएंट को लेकर अलर्ट किया गया है। हालांकि बिहार ही नहीं पूरे देश मे नए वैरिएंट का कोई मामला नहीं आया है। बावजूद जिलों के साथ सभी आरटीपीसीआर लैब को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग भी नए वैरिएंट को लेकर सतर्क हो गया है।