बिहार में लालू के साथ जाएंगे मोदी के हनुमान, MLC चुनाव में चिराग को RJD से आधा दर्जन सीटों का आफर

बिहार में लालू के साथ जाएंगे मोदी के हनुमान, MLC चुनाव में चिराग को RJD से आधा दर्जन सीटों का आफर

लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के संस्‍थापक चिराग पासवान (Chirag Paswan) का राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) से मोहभंग होता दिख रहा है। वे जल्‍द ही एनडीए से बाहर जा सकते हैं। बताया जा रहा है कि खुद को कभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हनुमान (Hanuman of PM Narendra Modi) बाताने वाले चिराग पासवान अब राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के साथ जा सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो यह चिराग का बड़ा राजनीतिक यू-टर्न होगा। सूत्रों की मानें तो चिराग पासवान को आरजेडी ने बिहार विधान परिषद की 24 सीटों पर होने जा रहे चुनाव (Bihar MLC Election) में करीब आधा दर्जन सीटों का आफर दिया है।


बिहार में बीजेपी व नीतीश को कमजोर करना चाहते हैं लालू

मिली जानकारी के अनुसार लालू प्रसाद यादव बिहार में बीजेपी तथा मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को कमजोर करने की रणनीति के तहत चिराग पासवान को अपने पाले में करना चाहते हैं। वे चाहते हैं कि चिराग की पार्टी आरजेडी से गठबंधन कर विधान परिषद का चुनाव लड़े। सूत्र बताते हैं कि इस मामले में आरजेडी व एलजेपी (रामविलास) के प्रदेश स्तरीय नेता संपर्क में हैं। चिराग की तरफ से प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी और संसदीय दल के अध्यक्ष हुलास पांडेय आरजेडी से बातचीत कर रहे हैं।


आरजेडी का नाम लिए बिना गठबंधन की बातचीत को माना

इस बातचीत के संबंध में दोनों दलों के नेता बोलने से परहेज कर रहे हैं। चिराग की पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी ने इतना जरूर कहा है कि गठबंधन के लिए बातचीत चल रही है, लेकिन यह बातचीत किस दल के साथ चल रही है, उन्होंने नहीं बताया। इसके पहले बीते 13 नवंबर को पटना में चिराग पासवान ने कहा था कि आगामी चुनाव वे गठबंधन के तहत लड़ेंगे। तब माना गया था कि उनका इशारा विधान परिषद चुनाव की ओर था। हालांकि, चिराग ने तब गठबंधन के दल की ओर इशारा नहीं किया था।

पार्टी स्थापना दिवस के अवसर पर घोषणा कर सकते हैं चिराग

माना जा रहा है कि चिराग पासवान 28 नवंबर को पार्टी के स्थापना दिवस के अवसर पर पटना में गठबंधन की घोषणा कर सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो यह चिराग का बड़ा राजनीतिक कदम होगा। खुद को प्रधानमंत्री का करीबी व उन्‍हें राम कहते हुए खुद को उनका हनुमान बताते रहे चिराग पासवान का यह कदम उनका बड़ा राजनीतिक यू-टर्न होगा।


बिहार में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर अलर्ट

बिहार में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर अलर्ट

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रान को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों को अलर्ट जारी किया है। जिलों के सभी सिविल सर्जन और मेडिकल अफसरों को निर्देश दिए गए हैं कि नए वैरिएंट को लेकर विशेष सावधानी बरतें। यदि कोविड रूटीन टेस्ट के दौरान कहीं किसी भी जिले से कोई विशेष जानकारी या सूचना मिलती है तो तत्काल स्वास्थ्य मुख्यालय को इसकी जानकारी दें। राज्य स्वास्थ्य समिति की ओर से अन्य देशों में मिले कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर जिलों को हिदायती पत्र भेजा गया है। बता दें कि विदेश से लौटे बिहार के 281 लोगों की सूची केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने सौंपी है। 

लगातार अधिक से अधिक टेस्ट करने के निर्देश

मुख्यालय की ओर से जारी दिशा निर्देश के अनुसार प्रदेश में जितने भी आरटीपीसीआर लैब हैं वे लगातार अधिक से अधिक कोविड टेस्ट करते रहें। जांच में कोई कमी नहीं आनी चाहिए। राज्य के बाहर से आने वालों पर भी नजर रखने और उनकी जांच के आदेश जिलों को दिए गए हैं।

विदेश से लौटे 281 यात्रियों की सूची सौंपी

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से दो दिन पहले ही बिहार से बने पासपोर्ट के आधार पर 281 यात्रियों की सूची सौंपी गई है। ये सभी यात्री हाल ही में स्वदेश वापस लौटे हैं। मंत्रालय ने इन यात्रियों की पहचान कर इनकी जीनोम सिक्वेंसिंग के आदेश शनिवार को ही जारी किए थे। 

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने किया अलर्ट

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि जिलों को नए कोरोना वैरिएंट को लेकर अलर्ट किया गया है। हालांकि बिहार ही नहीं पूरे देश मे नए वैरिएंट का कोई मामला नहीं आया है। बावजूद जिलों के साथ सभी आरटीपीसीआर लैब को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग भी नए वैरिएंट को लेकर सतर्क हो गया है।