मधुबनी में कपड़ा व्यवसायी के घर डकैती में 1.40 लाख कैश और जेवर ले उड़े डकैत

मधुबनी में कपड़ा व्यवसायी के घर डकैती में 1.40 लाख कैश और जेवर ले उड़े डकैत

मधुबनी जिला के लौकहा थाना लौकहा थाना क्षेत्र के लौकहा बाजार में गुरुवार देर रात डकैती की घटना से क्षेत्र में भय हैं. गृहस्वामी और कपड़ा व्यावसायी गोपेशचन्द सेन के मुताबिक आधी रात के बाद उनकी पत्नी आशा सेन को घर के पिछले भाग में बहुत अधिक रोशनी होती दिखी. उन्होंने अपने पति को उठाकर देखने को बोला कि कहीं बिजली के शॉट सर्किट से आग तो नहीं लग गई. उन्होंने जब देखने की प्रयास की तो पाया कि कोई उनके घर के लोहे के ग्रिल को काट रहा है.

उन्होंने लौकहा बाजार के ही अपने बहनोई अरुण कुमार दत्त को टेलीफोन करके इसकी जानकारी दी. वे वहां से थोड़ी दूर स्थित थाने पहुंच गए. वहां जानकारी देते ही और एक सिपाही उनके साथ आ गया. इसी बीच पुलिस की रात्रि गश्ती टीम भी मौके के पास पहुंच गई. फिर भी क्रिमिनल घर के ग्रिल को काटते ही रहे. उन्होंने 12 एमएम मोटे लोहे के चार-पांच हैंडिल को काटकर घर के अंदर प्रवेश किया.

फिर उन्होंने हथियार दिखाकर गृहस्वामी से चाबी ले ली और लूटपाट करने लगे. तब तक गृहस्वामी कई लोगों को टेलीफोन कर चुके थे. बाद में अपराधियों ने टेलीफोन भी छीन लिया. क्रिमिनल करीब बीस की संख्या में बांस की सीढ़ी बनाकर घर के पिछले हिस्से से अंदर दाखिल हुए हथियारबंद क्रिमिनल पुलिस टीम की ओर बमबाजी कर रहे थे.

बमबाजी में लौकहा का चौकीदार कृष्णदेव दास घायल बताया जाता है. कुछ लोगों का बोलना है कि एसएसबी कैम्प में जब घटना की जानकारी दी गई तो वहां बताया गया कि उनका काम सीमा की सुरक्षा करना है. फिर उन्होंने सीमा पर भी नज़र का आग्रह किया कि क्रिमिनल उधर की ओर ही भागते हैं. लेकिन उनका आग्रह अनसूना कर दिया गया.

गृहस्वामी के मुताबिक अपराधियों ने उनके बेटे को नीट के कोचिंग में नाम लिखाने के लिए रखे एक लाख 40 हजार रुपए और जवरात लूटकर ले गए. मौके फुलपरास के एसडीपीओ प्रभात कुमार शर्मा और ललमनियां तथा खुटौना की पुलिस भी पहुंची. लेकिन तब तक क्रिमिनल भाग चुके थे.