पांच साल बाद लौट रहा बिहार का सुपर काप शिवदीप लांडे

पांच साल बाद लौट रहा बिहार का सुपर काप शिवदीप लांडे

दिन हो रात आंखों पर काला चश्‍मा, फिट बॉडी के लिए मशहूर सुपर काप और सिं‍घम के नाम से चर्चित 2006 बैच के आइपीएस आफिसर शिवदीप वामनराव लांडे (IPS Shivdeep Lande)। जी हां, ये पुलिस अधिकारी एक बार फिर बिहार आ रहे हैं। पांच वर्षों बाद अपने गृह राज्‍य महाराष्‍ट्र से सेंट्रल डेपुटेशन की अवधि पूरा कर लौट रहे शिवदीप लांडे को जल्‍द ही बिहार पुलिस में बड़ा ओहदा दिया जा सकता है। वे अपने गृह राज्‍य में मुंबई एटीएस में डीआइजी (DIG in Mumbai ATS) के पद पर पोस्‍टेड हैं। सूत्रों का कहना है कि दिसंबर के पहले सप्‍ताह से वे बिहार में सक्रिय हो जाएंगे।

सड़क छाप लफंगों के लिए बन गए थे शामत

वे पटना के अलावा रोहतास और अररिया में भी रह चुके हैं। बिहार के राज्‍यपाल के एडीसी का पद भी उन्‍होंने संभाला। पटना में सिटी एसपी रहते लड़कियों के बीच उनका जबरदस्‍त क्रेज था। उन्‍होंने लड़कियों को अपना मोबाइल नंबर दे रखा था, मुसीबत पड़ने पर कॉल मिलते ही वे तुरंत पहुंच जाते थे। लफंगों के लिए तो ये आफत बनकर आए थे। अपने फेसबुक पर उन्‍होंने एक तस्‍वीर शेयर करते हुए लिखा कि मेरी खाकी के प्रति लड़कियों का अटूट विश्‍वास ही मेरी राखी है। जब-जब किसी बहन ने मुझे याद किया है तो सदा मैं उनका भरोसा बनकर वहां खड़ा रहा हूं।  फिटनेस के लिए काफी सजग शिवदीप लांडे ने अपने फेसबुक एकाउंट दौड़ते हुए एक तस्‍वीर शेयर की और लिखा कि जब कभी किसी घटना से गुस्‍सा आता है तो खुद को यूं ही प्राकृति‍क तरीके से सामान्‍य करता हूं। अंदर के सारे गुस्‍से को दौड़ कर पसीनों में बहा देना मेरी आदत है।  

पटना में पोस्टिंग के दौरान उन्‍होंने नकली सामान बेचने वालों के लिए कार्रवाई की थी। नकली दवाओं और जाली नोट छापने वालों के लिए भी वे मुसीबत बन गए थे।  पटना के PMCH के पास अशोक राजपथ में एक व्‍यवसायी की हत्‍या के बाद अपराधियों के भय  से दुकानें बंद हो गई थीं। तब शिवदीप लांडे ने अपराधियों को दबोच कर पीएमसीएच गेट पर ही उनकी जमकर धुनाई की थी। रोहतास में पत्‍थर माफिया के खिलाफ उन्‍होंने बड़ी कार्रवाई की थी। जिस समय वे ट्रेनी आइपीएस थे उसी समय बालू और पत्‍थर माफिया की ओर से उनपर हमला कर दिया गया। लगातार फायरिंग की गई। तब उन्‍होंने खुद जेसीबी चलाकर उनके अड्डे को नेस्‍तनाबूत कर दिया था। नशे के सौदागर भी उनके नाम से कांपते थे।


बिहार के हेल्थ सेंटर में RT-PCR जांच कराने वालों में मोदी-शाह का नाम, लिस्ट में सोनिया गांधी और कटरीना भी

बिहार के हेल्थ सेंटर में RT-PCR जांच कराने वालों में मोदी-शाह का नाम, लिस्ट में सोनिया गांधी और कटरीना भी

बिहार के अरवल जिले में कोरोना टेस्ट में फर्जीवाड़ा सामने आया है। यहां के करपी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, बॉलीवुड एक्टर प्रियंका चोपड़ा की कोरोना जांच कर दी गई है।

यह खुलासा तब हुआ जब स्वास्थ्य विभाग की एक टीम ने घर-घर जाकर सर्वे किया। बताया जा रहा है कि करपी CHC में मिले रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से जांच के नाम पर सैकड़ों लोगों का नाम फर्जी तरीके से डाल दिया गया है। इनके नाम और मोबाइल नंबर पूरी तरीके से गलत हैं।

वहीं, 27 अक्टूबर को RT-PCR जांच के नाम पर कई बड़े दिग्गजों का नाम शामिल कर दिया गया है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, सोनिया गांधी का नाम अहम हैं।

DM बोलीं- जांच के बाद करेंगे FIR
कोरोना टेस्टिंग में प्रियंका चोपड़ा के अलावा कटरीना कैफ, ऐश्वर्या राय समेत कई फिल्मी कलाकारों का नाम भी शामिल हैं। इस मामले में स्वास्थ्य विभाग का कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने से सीधे तौर पर बच रहा है। अरवल DM प्रियदर्शनी का कहना है, 'पूरा मामला बहुत ही संगीन है। हम इसकी जांच कर रहे हैं और जांच के बाद FIR भी करेंगे। MOIC से लेकर BHM तक सभी से पूछताछ करेंगे।'

PM के जन्मदिन पर दिया गया था निर्देश
PM मोदी के जन्म दिवस पर स्वास्थ्य विभाग ने सभी स्वास्थ्य केंद्रों को वैक्सीनेशन के साथ-साथ कोरोना टेस्टिंग का टारगेट दिया था। इसके बाद कई जगहों पर रिकार्ड तोड़ जांच और वैक्सीनेशन हुआ। अरवल में स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना टेस्टिंग में फर्जी तरीके से लोगों का नाम डालकर टारगेट पूरा किया है।

फर्जीवाड़ा इस कदर किया गया कि फर्जी नामों में राजनीतिक और फिल्मी कलाकारों के मोबाइल नंबर भी लिखे गए, जिनके घर का पता करपी प्रखंड के पुराण गांव में है। PM मोदी का नाम और पता करपी के दो अलग-अलग गांव में दिया गया है। वहीं, फिल्मी कलाकार प्रियंका चोपड़ा का निवास स्थान और मोबाइल नंबर भी गलत है।