बिहार के विवि-कालेज शिक्षक-कर्मियों के लिए अच्‍छी खबर, शिक्षा विभाग का पोर्टल देगा यह फायदा

बिहार के विवि-कालेज शिक्षक-कर्मियों के लिए अच्‍छी खबर, शिक्षा विभाग का पोर्टल देगा यह फायदा

राज्य के 13 विश्‍वविद्यालयों और 260 अंगीभूत महाविद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों और कर्मियों के लिए यह अच्छी खबर है। अब उन्हें वेतन सत्यापन के लिए भाग-दौड़ नहीं करनी पड़ेगी। शिक्षा विभाग ने शिक्षकों और कर्मचारियों के वेतन सत्यापन (Salaries Verification) के लिए पोर्टल पर आनलाइन आवेदन (Online Application) करने की सुविधा दी है और साफ्टवेयर से उनका वेतन सत्यापन होगा। अगले हफ्ते से शिक्षा विभाग द्वारा तैयार साफ्टवेयर काम करने लगेगा। शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी (Minister of Education Vijay Kumar Choudhary) के हाथों साफ्टवेयर लांच किया जाएगा। इसकी तैयारी शिक्षा विभाग ने शुरू कर दी है।

सभी विवि और कालेजों को जोड़ा गया पोर्टल से

सभी विश्‍वविद्यालयों और अंगीभूत महाविद्यालयों को पोर्टल से जोड़ दिया गया है। साफ्टवेयर की खासियत यह है कि यदि किसी शिक्षक या कर्मचारी का पहले से वेतन निर्धारण में विसंगति है तो यह उसे भी पकड़ लेगा। इसके बाद कमांड सिस्टम को सूचना भेज देगा। शिक्षा विभाग के तकनीकी सेल का दावा है कि साफ्टवेयर से वेतन संबंधी विवाद नहीं रहेंगे। शिक्षा विभाग के सचिव असंगबा चुबा आओ ने बताया कि पोर्टल के माध्यम से नए शिक्षकों और कर्मचारियों के वेतन निर्धारण प्रक्रिया भी अपडेट होगी। इसी तरह संबद्ध डिग्री कालेजों के शिक्षकों और कर्मचारियों के लिए तैयार पोर्टल से वेतन भुगतान की आनलाइन मानीटरिंग सुनिश्चित होगी।


पटना: झड़प के बाद धनरुआ में दशा तनावपूर्ण, एसपी बोले- गोलियां कहां से और कितनी चलीं, हो रही जांच

पटना: झड़प के बाद धनरुआ में दशा तनावपूर्ण, एसपी बोले- गोलियां कहां से और कितनी चलीं, हो रही जांच

पटना  पटना के धनरुआ में पुलिस और ग्रामीणों के बीच झड़प के बाद दशा तनावपूर्ण बना हुआ है इसको देखते हुए ग्रामीण एसपी ने पटना से अलावा पुलिस बल बुलाया है पटना से दो बसों में 50 से अधिक पुलिस के जवान धनरुआ पहुंचकर मोर्चा थाम लिया गांव के चारों तरफ पुलिस के जवानों को तैनात कर दिया गया है

ग्रामीण एसपी ने बताया कि इस झड़प में 16 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं  सभी पुलिसवालों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है एसपी ने बोला कि पुलिस गांव में जायजा लेने गई थी  पुलिस वहां कई बार रेड कर चुकी है चुनाव प्रचार के लिए भी लोग वहां जुटे हुए थे पुलिस और लोगो के बीच मिस अंडरस्टैंडिंग के कारण ये घटना घटी  लोगों को कुछ और बताया गया, इसलिए वे उग्र हो गये

एसपी ने बताया कि झड़प में घायल ग्रामीणों को उपचार के लिए PMCH भेजा गया है  सूचना मिली है एक आदमी की मृत्यु हुई है गोलियां कहां से और कितनी चली, इसकी जाँच हो रही है

झड़प में धनरुआ थानाप्रभारी का सिर फट गया है एक इंस्पेक्टर का पैर टूट गया है पुलिस और गांववालों के बीच गोलीबारी हुई है  दरअसल धनरूआ थानाक्षेत्र के मड़ियावा गांव में चुनाव प्रचार समाप्त होने के बाद भी प्रचार किया जा रहा था इसी सूचना पर पुलिस प्रचार रोकने के लिए गई थी इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस की टीम को घेर कर हमला कर दिया लोगों से स्वयं को बचाने के लिए पुलिस ने फायरिंग की इस झड़प में पुलिस के कई जवान जख्मी हो गये 3 ग्रामीणों को गोली लगी है