बिहार

समसा दुर्गा मंदिर में मां की भव्य प्रतिमा की गयी स्थापित

नावकोठी प्रखंड के विभिन्न दुर्गा मंदिरों में चौथे दिन नव दुर्गा के कुष्मांडा स्वरुप की पूजा वैदिक विधान से शुक्रवार को की गयी. एपीएस +2 विद्यालय नावकोठी के खेल मैदान तथा पंचायत भवन समसा दुर्गा मंदिर में मां की भव्य प्रतिमा स्थापित की गयी है. यहां मेले का भी आयोजन किया जाता है. इसके लिए दुकानें सजने लगीं हैं.

मीना बाजार भी लगाया जा रहा है. एपीएस विद्यालय नावकोठी खेल मैदान स्थित दुर्गा मंदिर में पूजन के दौरान पंडित रतीश चंद्र पाठक ने बोला कि नव दुर्गा के चौथे रूप को कुष्मांडा देवी बोला जाता है. इनकी पूजा नवरात्रि में चौथे दिन विधि-पूर्वक की जाती है. इन्होंने ब्रह्मांड को उत्पन्न किया था इस लिए इन्हें कुष्मांडा माता कहते हैं. इन्हें जगत जननी भी बोला जाता है.अपनी मंद, मामूली हंसी से ब्रह्मांड को उत्पन्न करने के कारण देवी को कुष्मांडा नाम दिया गया है. सिटी रिपोर्टर. डंडारी डंडारी प्रखंड क्षेत्र भीतर के विशनपुर ग्राम के दुर्गा जगह परिसर में आयोजित श्रीमद भागवत साप्ताहिक ज्ञान यज्ञ कथा के पहले दिन राजस्थान से आए कथावाचिका परम पूज्या दीदी श्यामा किशोरी जी ने बोला कि श्रीमद् भागवत कथा का श्रवण करने मात्र से मनुष्य के जीवन में सुख शांति और समृद्धि तीनों की प्राप्ति होती है, इतना ही नहीं इसके अलावे उन्होंने यह भी बोला कि श्रीमद् भागवत कथा को सुनने से आदमी के जन्मों जन्म के पाप मिट जाते हैं, वहीं मोक्ष की भी प्राप्ति होती है. मन में आध्यात्मिक विकास होता है, श्रीमद भागवत कथा में जीवन का सार तत्व उपस्थित हैं. लोगों में यह होनी चाहिए कि निर्मल मन और स्थिति के साथ कथा श्रवण करने की. साथ ही उन्होंने बोला कथा श्रवण मात्र से जहां मनुष्य को परमानंद की प्राप्ति होती है. वही जन्मों जन्मांतर के विकार नष्ट होकर प्राणी मात्र का लौकिक और आध्यात्मिक विकास भी होता है. वहीं मौके पर जिप अध्यक्ष सुरेंद्र पासवान, बीजेपी मंडल अध्यक्ष सुमित कुमार सिंह गुड्डू, कृष्ण मोहन सिंह, रामविनय कुमार,मुखिया अमरजीत सहनी, प्रवीण झा, अभिमन्यु सिंह, रामकुमार, मुकेश राम, आदि समेत सैकड़ों की संख्या में स्त्री पुरुष श्रद्धालु उपस्थित थे.

Related Articles

Back to top button